जागरण ने पैसा बचाने के लिए रांची में चाय भी बंद कर दिया

: फैक्स मशीन भी बंद, पहले ही बंद हो चुका है फोन : जल्द ही जागरण को बाय-बाय करेंगे कई लोग : विश्व के नंबर एक अखबार का दावा करने वाले अखबार दैनिक जागरण का रांची में बुरा हाल है। यहां दिनभर कमरतोड़ मेहनत करने वालों को तो कुछ नहीं मिलता लेकिन आफिस में बैठकर कुर्सी तोड़ने वालों को सब सुविधाएं मिलती हैं। पहले यहां पैसा बचाने के चक्कर में फोन बंद कर दी गई। वैसे कुछ लोगों लिए अभी भी यह फ्री है और ऐसे लोग घंटों अपनी प्रेमिकाओं से बतियाते हुए देखे जा सकते हैं।

एकाउंट के एक तथाकथित अधिकारी तो इसमें माहिर हैं। वे एक महिला कर्मी पर ऐसे मोहित हुए कि पैसे की बौछार कर दी। आना-जाना सब फ्री। आफिस की गाड़ी फ्री। अब एक जुलाई से यहां दो दफे मिलने वाली चाय भी बंद कर दी गई है। इससे कर्मी भीतर ही भीतर बौखलाए हुए हैं। अखबार की फैक्स मशीन बंद कर दी गई है। इंक्रीमेंट नहीं होने से इनमें पहले से ही सुगबुगाहट है। महंगाई बढ़ रही है और इनके पैसे से रोटी दाल पर भी संकट है। कुछ लोगों ने तो इधर-उधर देखना भी शुरू कर दिया है। कुछ से रांची के एक वरिष्ठ संपादक हस्ती ने संपर्क किया है। वे जल्द ही मध्य प्रदेश से प्रकाशित होने वाला अखबार यहां से लांच करने की तैयारी में हैं। उनकी नजर जागरण के तेजतर्रार लोगों पर है। रांची में उनका अखबार का अनुभव पुराना है और उन्होंने प्रभात खबर और हिन्दुस्तान को झारखंड में जमाया है। एक न्यूज चैनल को भी स्थापित करने में उनका श्रेय रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *