जागो आजतक जागो, दर्शक बेवकूफ नहीं हैं

आदरणीय यशवंत जी, मैंने सोमवार दोपहर में आजतक पर आशाराम बापू के बेटे नारायण स्वामी पर रिपोर्ट देखा. उससे ऐसा प्रतीत हो रहा था कि आजतक वाले जबरदस्ती इस न्यूज़ को दिखा रहे हैं, और नारायण स्वामी को दोषी साबित करने पर तुले हुए हैं. दस वर्ष पुरानी बात को जबरदस्ती तूल दिया जा रहा है और स्क्रीन पर लिखा जा रहा है कि नारायण स्वामी ने महिला से जबरदस्ती की. महिला ने भी कहीं नहीं कहा कि नारायण स्वामी ने उनसे जबरदस्ती की. आज-तक की रिपोर्टर जब महिला से पूछताछ कर रही थी तो महिला अपने पति पर पांच लाख रुपया मांगने का आरोप लगा रही थी.

इस पर आजतक की रिपोर्टर ने बीच में ही महिला को रोककर बात फिर से नारायण स्वामी की और घुमा दिया, जबकि दोषी महिला के पति के बारे में कुछ भी नहीं कहा जा रहा है. आजतक पर दिखाया जा रहा है कि नारायण स्वामी को ८ अक्टूबर तक गिरफ्तार कर लिया जायेगा और उन्हें दस साल की सजा हो सकती है. परन्तु अगर ऐसा है तो सबसे बड़ा गुनाहगार महिला का पति है जिसके बारे में आजतक पर कुछ नहीं दिखाया जा रहा है. मेरा महिला से सवाल है कि अगर पति ने पैसों की मांग की थी तो इतने वर्षों तक क्या कर रही थी. उन्होंने थाना या कोर्ट में मामला दर्ज क्यों नहीं करवाया. यशवंत जी, जबरदस्ती इस मुद्दे को ब्रेकिंग कर दिखाया जा रहा है. दर्शक सब समझते हैं.  अगर समय रहते आजतक नहीं चेता तो उसकी विश्वसनीयता पर ही प्रश्न चिन्ह लग जाएगा.  जागो आजतक जागो, जनता बेवकूफ नहीं है कि जो दिखाओगे उसे ही सच समझ लिया जाएगा.

संतोष कुमार अग्रवाल

जादूगोड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *