जीएम द्वारा नोटिस ना लेने पर हिन्दुस्तान के पीड़ित कर्मचारियों ने सीईओ को भेजा पत्र

हिन्दुस्तान, कानपुर प्रबंधन द्वारा मनमाने तरीके से निकाले गए कर्मचारियों संजय दूबे, नवीन कुमार, पारस नाथ साह एवं अंजनी प्रसाद ने हिन्दुस्तान के सीईओ को पत्र लिखकर कानपुर जीएम द्वारा पीड़ितों के पत्रों को ना स्वीकार किये जाने की शिकायत करते हुए मामले में न्याय दिये जाने की मांग की है. इन चारों कर्मचारियों को पहले इनके मूल काम से अलग करके इन्हें दूसरे डिपार्टमेंट में ट्रांसफर कर दिया गया. बाद में इन्हें सेवा से अलग कर दिया गया. 
 
अब इनकी द्वारा भेजी गई नोटिस को कानपुर के जीएम नहीं ले रहे और कर्मचारियों के खिलाफ रोज नई नोटिस भेज दे रहे हैं. अतः इन चारों कर्मचारियों की तरफ से एचटी मीडिया कर्मचारी संघ ने हिन्दुस्तान मीडिया वेंचर लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी को पत्र भेजा गया है. इस पत्र की एक कॉपी लेबर कमिश्नर को रिसीव करा दी गई है तथा मेल से प्रबंधन के अन्य अधिकारियों को भी भेज दी गई है. नीचे पूरा पत्र दिया जा रहा है.
 

सम्बंधित खबरें…

जब हिन्दुस्तान अखबार चल निकला तो प्रबंधन ने निकाल बाहर कर दिया

xxx

हिन्दुस्तान अखबार ने पीड़ितों के खिलाफ ही जांच बिठा दी

xxx

हिंदुस्तान अखबार के 22 छोटे कर्मियों का दूर-दराज तबादला… (देखें लिस्ट) …उत्पीड़न चालू है…

xxx

सात करोड़ रुपये बचाने के लिए शोभना भरतिया और शशि शेखर ले रहे हैं अपने 22 बुजुर्ग कर्मियों की बलि!

xxx

दो पीड़ित हिंदुस्तानियों ने लेबर कमिश्नर शालिनी प्रसाद से की लिखित कंप्लेन (पढ़ें पत्र)

xxx

हिंदुस्तान, कानपुर के मैनेजर और पीड़ित कर्मियों के बीच श्रम विभाग ने बैठक कराई, कोई नतीजा नहीं

xxx

हिंदुस्तान, कानपुर के चार कर्मियों ने अखबार मैनेजमेंट के खिलाफ श्रम विभाग को लिखा पत्र

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *