टीवी18 ग्रुप का पत्रकार विरोधी रवैया असहनीय : कृष्ण मोहन झा

इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्टस् के राष्ट्रीय सचिव कृष्ण मोहन झा ने टीवी18 समूह के प्रबंधन द्वारा संस्थान में कार्यरत सैकड़ों पत्रकारों की छटनी की कार्यवाही को पत्रकारों के हितों पर कुठाराघात निरूपित करते हुए सरकार से इस मामले में तुरन्त हस्तक्षेप करने की मांग की है। श्री झा ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि टीवी 18 समूह ने संस्थान के पुनर्गठन के नाम पर सैकड़ों पत्रकारों को नौकरी से वंचित कर जो अधिनायकवादी व्यवहार किया है वह एक लोकतांत्रिक देश में असहनीय और अवांछनीय है।

श्रमजीवी पत्रकारों के हितों के संरक्षण के लिए बनाए गए कानूनों के दायरे में उन मीडिया संस्थानों को भी लाया जाना चाहिए जो इलेक्ट्रानिक चैनल संचालित कर रहे है। जिससे वहां कार्यरत पत्रकारों के आर्थिक हित सुरक्षित रह सके इंडियन फेडरशन आफ वर्किंग जर्नलिस्टस् यूनियन की एक बैठक गत दिवस अध्यक्ष श्री प्रवीण खारीवाल की अध्यक्षता में संपन्न हुई जिसमें राष्ट्रीय सचिव श्री कृष्ण मोहन झा विशेष रूप से मौजूद थे इस बैठक में टीवी18 समूह के प्रबंधकों की उक्त अन्यायपूर्ण कार्रवाही का सख्त विरोध करते हुए तत्काल इस कदम को वापिस लेने की मांग की गई।

बैठक में वरिष्ठ पत्रकार एवं उपाध्यक्ष आर.एम.पी.सिंह, महासचिव रवीन्द्र पंचाली,संयोजक सदस्यता अभियान सतीश सक्सेना, सचिव सुभाष पाठक,सहित ओ.पी.श्रीवास्तव, रूपेश गुप्ता, राधेश्याम, राजेश विश्वकर्मा, महेश कुमार सिंह, शिवराज सिंह चौहान ,शरद पाराशर, विनोद भारिल सलमान खान, प्रवीण सक्सेना, जवाहर सिंह, विकास उपाध्याय संजय प्रकाश शर्मा, पवन वर्मा, अनुराग श्रीवास्तव, सुमेर सिंह यदुवंशी, आनंद सक्सेना, देवकी नंदन पांडे, प्रेम नारायण प्रेमी गोपी बलवानी, राजू खत्री, प्रवाल सक्सेना, सचिव सुभाष पाठक उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *