डायलाग इंडिया पत्रिका के प्रबंध संपादक, संपादक समेत कई पत्रकार कोर्ट में तलब

मथुरा : न्यायिक मजिस्ट्रेट षष्ठम भूपेन्द्र प्रताप के न्यायालय से वरिष्ठ पत्रकार मोहन स्वरूप भाटिया द्वारा दायर मानहानि के अभियोग में विजय गुप्ता तथा दिल्ली से प्रकाशित मासिक पत्रिका ‘डायलाग इंडिया‘ के संपादक अनुज कुमार अग्रवाल, प्रबन्ध संपादक डा. सारिका अग्रवाल आदि सहित 9 लोगों को न्यायालय में तलब किया गया है।

विद्वान न्यायाधीश ने परिवादी के कथन को उद्धृत करते हुए अपने आदेश में लिखा है कि मोहन स्वरूप भाटिया उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के उपाध्यक्ष तथा उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान द्वारा एक लाख रुपये की राशि सहित ‘लोक भषण‘ उपाधि आदि अनेक राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय सम्मानों से सम्मानित रहे हैं। परिवाद में कहा गया है कि ‘डायलाग इंडिया‘ में प्रकाशित असत्य, अनर्गल और निराधार आलेख से परिवादी की मानहानि हुई है।

परिवाद के सन्दर्भ में पवन चतुर्वेदी एडवोकेट, डा. अजय कान्त नागर तथा डा. दीपक गोस्वामी के साक्ष्य के पश्चात् आदेश में लिखा गया है कि मौखिक तथा दस्तावेजी साक्ष्य के सम्यक परिशीलन से प्रथम दृष्टया स्पष्ट होता है कि मोहन स्वरूप भाटिया प्रतिष्ठित व्यक्ति हैं तथा प्रकाशित आलेख से उनकी ख्याति की अपहानि होगी। आदेश में आगे कहा गया है कि अभियुक्तगण अनुज कुमार अग्रवाल, डा. सारिका अग्रवाल, नरेश चन्द्र गुप्ता, पुनीत गोस्वामी, जगदीश प्रसाद शर्मा, रवीन्द्र सिंह, महेन्द्र प्रताप सिंह, मुकेश श्रीवास्तव तथा विजय कुमार गुप्ता के विरूद्ध धारा 500, 501, 502 के अन्तर्गत तलब किये जाने के प्रथम दृष्टया पर्याप्त आधार हैं अतः अभियुक्तगण 15 नवम्बर को न्यायालय में पेश हों। अभियोग की पैरवी प्रमुख अधिवक्ता प्रदीप राजपूत द्वारा की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *