तीन पत्रकारों की हत्‍या के विरोध में विपक्षी दल करेंगे त्रिपुरा बंद

अगरतला। त्रिपुरा में विपक्षी दलों ने एक समाचार पत्र के कार्यालय में घुसकर तीन कर्मचारियों की हत्या किए जाने के विरोध में मंगलवार को 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है। एक कांग्रेस नेता ने यह जानकारी दी। क्षेत्रीय भाषा के समाचार पत्र 'दैनिक गणदूत' के तीन कर्मचारियों की अज्ञात हमलावरों ने रविवार को हत्या कर दी थी।

कांग्रेस प्रवक्ता और पार्टी के विधायक आशीष साहा ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा, "मुख्यमंत्री माणिक सरकार को इस बर्बर अपराध की नैतिक जिम्मेदारी लेनी चाहिए। कांग्रेस ने इस घटना के विरोध में अगरतला में मंगलवार को 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है।" सत्तारूढ़ मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने अपनी सरकार से घटना की जांच कराए जाने तथा आरोपियों को पकड़ने की मांग की है। सरकार ने इस घटना की निंदा करते हुए पुलिस प्रमुख संजय सिन्हा से अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए उचित कदम उठाने की अपील की है।

कांग्रेस से अलग हुई पार्टी त्रिपुरा प्रगतिशील ग्रामीण कांग्रेस ने भी मंगलवार को राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया है। राज्य के सूचना मंत्री भानु लाल साहा, त्रिपुरा प्रदेश कांग्रेस प्रमुख सुदीप राय बर्मन, विपक्ष के नेता रतन लाल नाथ और तथा अन्य नेताओं ने भी इस घटना की निंदा की है। पुलिस के मुताबिक, रविवार को मोटरसाइकिल सवार दो हथियारबंद हमलावर 'दैनिक गणदूत' के कार्यालय में जबरन घुस आए थे और उन्होंने प्रूफ रीडर सुजीत भट्टाचार्य की चाकू मारकर हत्या कर दी। इस घटना में गंभीर रूप से घायल हुए प्रबंधक रंजीत चौधरी और चालक बलराम घोष की अस्पताल ले जाने के दौरान मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *