दुर्गा के निलंबन से मैं निजी तौर पर आहत और तकलीफजदा हूं : आईपीएस अमिताभ ठाकुर

Amitabh Thakur : I feel personally immensely pained at the suspension of young and dynamic IAS officer Ms Durga Shakti Nagpal. Yes, she will get reinstated sooner or later but the scar will be permanent and its impact on other IAS, IPS officers far-reaching.

xxx

युवा और उत्साही आईएएस अफसर सुश्री दुर्गा शक्ति नागपाल के निलंबन पर व्यक्तिगत स्तर पर ह्रदय से आहत और तकलीफजदा हूँ. यह सही है कि वह आज नहीं तो कल बहाल हो जायेगी पर इसके निशान लंबे समय तक रहेंगे और यह दूसरे आईएएस, आईपीएस अफसरों के लिए भी एक नजीर के रूप में काम करेगा.

xxx

     जय दुर्गा

    अरे ठीक है
    कि एक दिन
    बहाल मैं
    हो जाउंगी,
    दो दर्द
    मुझे मिला
    क्या भूल
    उसका पाउंगी.
    गुनाह था
    क्या मेरा
    मुझको भी
    चले पता,
    आगे कभी
    दुबारा
    उसको तो
    ना दुहराउंगी.
    कहते थे
    सारे साथी
    अब न्याय
    तुझको करना,
    क्या झूठ
    थीं वे बातें
    क्या मुझको
    था बहलाया.
    इतना तो
    सोच रखा,
    इस जिंदगी
    में अब,
    किसी और
    को ये दुर्गा
    गलत ना
    सताएगी.

उपरोक्त टिप्पणी और कविता आईपीएस अमिताभ ठाकुर के फेसबुक वॉल से.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *