दूरदर्शन में केजुअल कर्मचारियों का शोषण, फटकार के बाद भी नियमों का हो रहा उल्लंघन

नई दिल्ली : दूरदर्शन के केंद्रीय कार्यक्रम निर्माण केंद्र में कार्यरत दर्जनों केजुअल कर्मचारियों को नियमों के विपरीत काम कराया जा रहा है। दूरदर्शन में केजुअल (रिसोर्स पर्सन) के तौर पर नियुक्त कर्मचारियों को पूरे-पूरे महीने आना पड़ रहा है जबकि अनुबंध के नियमानुसार सिर्फ महीने में 7 आसाइनमेंट होते हैं, जिसके तहत एक माह में सात दिन ही उपस्थिति दर्ज कराना अनिवार्य है।

बताते चलें कि हाल ही में दूरदर्शन के खेल गांव स्थित केंद्रीय कार्यक्रम निर्माण केंद्र में नए डीडीजी अनिल कुमार गांधी स्थांतरित होकर पहुंचे हैं। गौरतलब है कि अनिल कुमार गांधी ने कर्मचारियों के इस प्रकार के हो रहे शोषण पर कड़ा ऐतराज भी जताया है। सूत्रों के मुताबिक इसकी जानकारी प्रसार भारती के सीईओ जवाहर सरकार तक पहुंच चुकी थी जिसके बाद डीडीजी गांधी ने इसकी कड़ी निंदा की है।  खेल गांव स्थित दूरदर्शन के केंद्रीय कार्यक्रम निर्माण केंद्र में डीडी नेशनल, डीडी इंडिया, डीडी स्पोर्ट्स, हाल में मण्डी हाऊस से यहां शिफ्ट हुए डीडी उर्दू तथा डीडी नेशनल पर प्रसारित होने वाले नैरोकास्टिंग प्रोग्राम कृषि दर्शन के डिपार्टमेंट हैं। यहां पर इन्हीं विभागों के द्वारा कार्यक्रम बनाए जाते हैं।  
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *