‘द सन’ के खिलाफ मानहानि का मुकदमा करेगा पाक

इस्लामाबाद : पाकिस्तान की सरकार ने ओलिंपिक में आतंकवादी हमले की आशंका से जुड़ी ‘फर्जी खबर’ को लेकर ब्रिटेन के मशहूर टैबलॉयड ‘द सन’ के खिलाफ 10 अरब रुपये के हरजाने की मांग करते हुए मानहानि का मुकदमा करने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री राजा परवेश अशरफ के नेतृत्व में हुई संघीय मंत्रिमंडल की बैठक में ब्रिटेन की अदालत में इस अखबार के खिलाफ मुकदमा दायर करने का फैसला किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि मंत्रिमंडल की बैठक में वीजा घोटाले के मुद्दे पर गहन चर्चा की गई और इसके बाद ‘द सन’ के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का निर्णय लिया गया। इस टैबलॉयड ने हाल ही में खबर प्रकाशित की थी कि पाकिस्तान में आतंकवादियों ने किस तरह से फर्जी पासपोर्ट हासिल किए हैं और वे लंदन ओलिंपिक में अपने टीम के साथ ब्रिटेन पहुंच सकते हैं। अखबार ने कहा था कि इस संबंध में पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी ने करीब 100 संदिग्धों की गिरफ्तारी की है।

पाकिस्तान के गृह सचिव, नागरिकों का पूरा विवरण रखने वानी संस्था ‘राष्ट्रीय डाटाबेस एवं पंजीकरण प्राधिकरण’ (एनएडीआरए) के प्रमुख तथा पासपोर्ट विभाग के महानिदेशक ने इस मामले पर मंत्रिमंडल के सामने पूरी जानकारी रखी। इस बैठक में पाकिस्तान के इन सभी शीर्ष अधिकारियों ने ब्रिटिश टैबलॉयड की रिपोर्ट को पूरी तरह ‘गलत’ और दुष्प्रचार फैलाने वाला करार दिया। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद सूचना मंत्री कमर जमां काइरा ने कहा, ‘‘मंत्रिमंडल ने एनएडीआरए को आदेश दिया है कि कानून मंत्रालाय से मशविरा करने के बाद टैबलॉयड के खिलाफ मानहानि का मुकदमा किया जाए।’’ (एनडीटीवी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *