पत्रकार परिषद के राज्य स्तरीय सम्मेलन में कई पत्रकार सम्मानित

: समर्पण की भावना से समाजसेवा में योगदान दें पत्रकार — प्रो. धूमल : बिलासपुर : हिमाचल प्रदेश के मुख्यमन्त्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने पत्रकार वर्ग से आह्वान किया है कि वे समाज सेवा के लिए समर्पित होकर अपना योगदान दें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सदैव पत्रकारों के कल्याण के लिए समर्पित रही है और उनके कार्य निष्पादन को सुगम बनाने के लिए अनेकों सुविधाएं एवं प्रोत्साहन दिए जा रहे हैं। मुख्यमन्त्री ने कल बिलासपुर में हिमाचल प्रदेश पत्रकार परिषद् के राज्य स्तरीय सम्मेलन में अपने अध्यक्षीय सम्बोधन में यह बात कही।

मुख्यमन्त्री ने कहा कि पत्रकारिता में समाचारों की सत्यता और वास्तविकता समाचार पत्र या न्यूज चैनल की विश्वसनीयता के लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण हैं। तथ्यों पर आधारित सूक्ष्म समाचार ही अपना प्रभाव छोड़ने में सफल होते हैं। पत्रकारिता के अवमूल्यन पर चिन्ता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि पत्रकारिता समाज के आंख और कान हैं, जिनका संज्ञान लेना आवश्यक है। प्रदेश ने विकासात्मक पत्रकारिता की मुहिम को बढ़ावा देने के लिए समाचार पत्रों एवं टी.वी. चैनल के पत्रकारों को उत्तम समाचार संप्रेषण के लिए पुरस्कार शुरू किये हैं। राष्ट्रीय स्तर 50 हजार रुपये, प्रदेश स्तर पर 25 हजार रुपये, तथा जिला स्तर पर भी 25 हजार रुपये प्रथम पुरस्कार के रूप में प्रदान किये जा रहे हैं।

धूमल ने पत्रकारिता को लोक तन्त्र का चौथा स्तम्भ बताते हुए हुए कहा कि पत्रकारिता की स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका रही है और इसके पश्चात देश के नव निर्माण में भी। वर्तमान परिपेक्ष्य में पत्रकारिता के सामने पहले से अधिक चुनौतियां और जिम्मेवारियां हैं। सामाजिक मूल्यों का पतन हो रहा है जिन्हें पुनः स्थापित करने के लिए पत्रकारिता का सहयोग अपेक्षित है। उन्होंने कहा कि हर प्रकार के समाचार पत्रों में विस्तार के साथ इलैक्ट्रॉनिक चैनल भी आज लोगों के जीवन का अभिन्न अंग बन गये है। लघु समाचार पत्र अपनी विश्वसनियता से पाठकों तथा समाज की सेवा कर रहे हैं। समाचार पत्र एक मिशन की तरह प्रकाशित होने चाहिए ताकि लोगों में जागरूकता पैदा करने के अतिरिक्त देश प्रेम और राष्ट्रीयता की भावना पैदा करने में अपना सहायोग दें।

धूमल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने गांव और गरीब की दशा सुधारने के लिए अनेकों कार्यक्रम आरंभ किए हैं, जिनमें 353 करोड़ रुपये की पंडित दीन दयाल किसान बागवान समृद्धि योजना, 100 करोड़ की लागत से मण्डी के बल्ह क्षेत्र में मध्यम सिंचाई योजना, 300 करोड़ रुपये की दूध गंगा योजना, भेड़ पालक समृद्धि योजना प्रमुख हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमन्त्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोग से प्रदेश शिक्षा केन्द्र के रूप में विकसित हो रहा है जिससे पर्यटन तथा अन्य गतिविधियों का विस्तार हो रहा है। प्रदेश सरकार बिलासपुर जिले में विश्वविद्यालय तथा हाईड्रो इंजीनियरिंग कालेज खोलने की दिशा में प्रयासरत है, जिसके शीघ्र कार्यशील होने की अपेक्षा है। इन शिक्षण संस्थानों के खुलने से जिले में शिक्षा के क्षेत्र में नये आयाम स्थापित हो सकेंगे।

मुख्यमन्त्री ने साहित्यक सृजन क्षेत्र में डा. एन.एल. नड्डा, श्री शक्ति सिंह चन्देल, श्री नवीन हलदूणवी, आचार्य पी.सी. कौंडल, समाज सेवा के लिए डा. मल्लिका नड्डा, डा. अजय श्रीवास्तव, स्व. रामदास ठाकुर, श्री सोमनाथ जार्ड, देह दान के लिए श्री यादविन्द्र सिंह राणा, किडनी दान के लिए, श्री श्यामलाल, विशेष ओलम्पिक पदक विजेता श्री राजेन्द्र, अन्तर्राष्ट्रीय कबड्डी खिलाड़ी कुमारी रितु नेगी, योगार्चाय महेन्द्र सिंह, शिक्षा के क्षेत्र में श्री विश्वमोहन, नेत्र चिकित्सा के क्षेत्र में, डा. पी.एन. शर्मा, वीरता के लिए श्री रतन लाल, पत्रकारिता के क्षेत्र में श्री सन्तोष कुमार, श्री प्रकाश लोहमी व श्री कर्मचन्द, जनरल जोरावर सिंह स्मृति पुरस्कार स्व. सुखराम ठाकुर तथा रूपलाल बड्डू, कहानी के लिए डा. सुशील कुमार फुल्ल, मास्टर रामदयाल नीरज, प्रो. सुन्दर लोहिया, कविता के लिए प्रो. अनिल राकेशी, श्री शिवचरण लाल रावत, श्री शक्ति उपाध्ययाय के अतिरिक्त दि ट्रिब्यून के वरिष्ठ पत्रकार श्री वी.पी. प्रभाकर, तथा दैनिक ट्रिब्यून के पूर्व सम्पादक श्री विजय सहगल को भी सम्मानित किया।

हिमाचल प्रदेश पत्रकार परिषद् के अध्यक्ष श्री जय कुमार ने मुख्यमन्त्री का अभिनंदन किया और पत्रकारों के हितों की रक्षा करने के लिए धन्यवाद किया। उन्होंने मुख्यमन्त्री राहत कोष से पत्रकारों को सहायता प्रदान करने के लिए भी आभार व्यक्त किया। उन्होंने मुख्यमन्त्री से पत्रकारों को उनकी जिम्मेदारियों का सुवधिापूर्वक निर्वहन करने के दृष्टिगत विभिन्न मांगों से भी अवगत करवाया।

श्री रिखी राम कौंडल उपाध्यक्ष हिमाचल प्रदेश विधान सभा, श्री गणेश दत्त उपाध्यक्ष हिमुडा, डा. बी.आर गौतम, श्री युवराज वैद, उपाध्यक्ष, राज्य पत्रकार परिषद्, श्री रितेश चौहान उपायुक्त बिलासपुर, श्री सन्तोष पटियाल पुलिस अधीक्षक, श्री शक्ति सिंह चन्लेल सेवानिवृत्त, आईएएस अधिकारी, श्रीमती रजनी शमा, अध्यक्ष, नगर परिषद, श्री बी.डी. शर्मा निदेशक सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग, अन्य वरिष्ठ अधिकारी तथा गणमान्य लोग इस अवसर पर उपस्थित थे।

बिलासपुर से विज्येंदर शर्मा की रिपोर्ट.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *