पाजीटिव मीडिया ग्रुप खरीदने के बाद नवीन जिंदल अब हरियाणा के लिए ला रहे एक नया चैनल!

नई दिल्ली : हरियाणा के एक और राजनेता न्यूज चैनल लाने की तैयारी में हैं। इस श्रृंखला में नया नाम जुड़ा है उद्योगपति और हरियाणा के कुरूक्षेत्र से कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल का। जिंदल ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के ही नेता मतंग सिंह के पाजीटिव टीवी मीडिया में हिस्सेदारी खरीदी है। इस मीडिया हाउस की ओर से एनईटीवी, एनई बंगला, एनई हाई-फाई, हमार टीवी, फोकस टीवी और रेडियो उ ला-ला का संचालन किया जा रहा है। जिंदल की ओर से जो नया चैनल लांच किया जाएगा, वह हरियाणा लाइव के नाम से होगा।

इस डील में एक नाम जो उभर कर सामने आया है, वह व्यवसायी अभय सिंह ओसवाल का है, जो ओसवाल ग्रीन टैक के मालिक हैं और नवीन जिंदल के ससुर हैं। ओसवाल की एनडीटीवी में भी 14 प्रतिशत हिस्सेदारी है। हालांकि नए चैनल में जिंदल और ओसवाल की कितनी हिस्सेदारी है, यह खुलासा नहीं हो पाया है। हरियाणा लाइव के लिए नई टीम के गठन का काम भी शुरू हो गया है। वरिष्ठ पत्रकार रितेश लक्खी को चैनल लांच करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है, वे हरियाणा लाइव के एडिटर इन चीफ बनाए गए हैं। लक्खी इससे पहले सुखबीर बादल के चैनल पीटीसी न्यूज के एडिटर इन चीफ थे। वहीं, आउटपुट एडिटर की जिम्मेदारी प्रदीप डबास को सौंपी गई है। डबास यहां आने से पहले केडी सिंह के चैनल ए वन तहलका के न्यूज हेड थे। इसके अलावा टीम के गठन की प्रक्रिया जोरों से चल रही है। ऐसा माना जा रहा है कि नया चैनल आगामी तीन माह में लांच कर दिया जाएगा। फिलहाल चैनल के संचालन का काम एनईटीवी के नोएडा स्थित कार्यालय से ही किया जाएगा।

हरियाणा के कई नेता चला रहे हैं चैनल

नवीन जिंदल हरियाणा के पहले राजनेता नहीं हैं, जो न्यूज चैनल ला रहे हैं। इससे पहले इस सूची में कई नेताओं का नाम शामिल है। कांग्रेस नेता विनोद शर्मा का चैनल इंडिया न्यूज, गीतिका खुदकुशी मामले में आरोपी गोपाल कांडा का चैनल हरियाणा न्यूज, टीएमसी नेता व राज्यसभा सदस्य केडी सिंह का एन वन तहलका प्रसारित हो रहे हैं। वहीं, समस्त भारतीय पार्टी के कर्ता-धर्ता सुदेश अग्रवाल ने भी खबरें अभी तक चैनल को कुछ समय के लिए लीज पर लिया है। जबकि हरियाणा विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष डा. रघुबीर कादियान का चैनल आई विटनेस न्यूज भी लांचिंग की प्रक्रिया में है।

विवादों में रहे हैं मतंग सिंह

नवीन जिंदल ने कांग्रेस  के जिस नेता मतंग सिंह के चैनल में हिस्सेदारी खरीदी है, वे काफी विवादास्पद रहे हैं। मतंग सिंह नरसिंहा राव की सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे हैं। वे असम से राज्यसभा के सांसद रह चुके हैं। वर्ष 2000 में उन्हें कांग्रेस से निकाल दिया गया था लेकिन कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह के चलने 2011 में उनकी दोबारा कांग्रेस में वापसी हुई। इसी दौरान आर्थिक धोखाधड़ी के सिलसिले में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय ने उनके घर व चैनल के कार्यालय में छापेमारी भी की थी। हाल ही में पश्चिम बंगाल में हुए सारधा चिटफंड घोटाले में भी उनका नाम आया था। मतंग सिंह ने मनोरंजना सिंह से प्रेम विवाह किया था, जिनके साथ अब उनके संबंध खत्म हो गए हैं। मनोरंजना अब असम से ही फ्रंटियर टीवी चैनल संचालित कर रही हैं।

दीपक खोखर की रिपोर्ट. संपर्क: 09991680040

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *