प्रिय नरेंद्र भाई… आप कब तक और कितना झूठ बोलते रहेंगे…

Shahnawaz Malik : प्रिय नरेंद्र भाई… आप कब तक और कितना झूठ बोलते रहेंगे। आज आप भाषण में कह रहे हैं कि मैं देश के पर्यावरण की रक्षा करूंगा। लेकिन प्रधानमंत्री की गद्दी हथियाने के लिए आप अपने ही राज्य के पर्यावरण का कबाड़ा कर रहे हैं।

चूंकि मैं अख़बार में पर्यावरण पर लिखता हूं, इसलिए आपको बताना चाहता हूं कि नर्मदा नदी पर बनाई जा रही 182 मीटर ऊंची सरदार पटेल की मूर्ति के लिए आपने राज्य या केंद्र सरकार से एनवायरनमेंट क्लीयरेंस नहीं लिया है। बिना क्लियरेंस के वहां जारी कंस्ट्रक्शन अवैध है।

नरेंद्र भाई, दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति की स्थापना सरदार सरोवर बांध और शूलपनेश्वर वाइल्ड लाइफ सैंक्चुरी से महज 3.2 किलोमीटर की दूरी पर की जा रही है। यह इलाका इको-सेंसटिव जोन में आता है। लेकिन एनवायरनमेंट क्लीयरेंस, सोशल इंपैक्ट असेसमेंट और सोशल कंस्लटेशन प्रॉसेस किए बिना साइट पर कंस्ट्रक्शन कैसे चल रहा है? किसी से नहीं तो कम से कम नर्मदा कंट्रोल अथॉरिटी के एनवायरनमेंटल सब ग्रुप से कंस्ट्रक्शन की इजाजत ले लेते, लेकिन आपने वह भी नहीं किया।

नरेंद्रभाई, आप सरदार बल्लभभाई पटेल की मूर्ति सैलानियों को लुभाने, डिवेलपमेंट और अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा के लिए बनवा रहे हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि इससे इलाके नेचुरल हैबिटैट खत्म हो जाएगा। नरेंद्रभाई, पीएम बनने और मेगा टूरिज्म के नाम पर जब आप अपने ही हाथों से गुजरात के पर्यावरण का गला घोंट रहे हैं तो फिर देश के पर्यावरण को बचाने का ठेका आखिर आपको कैसे दे दिया जाए??? आप तो देश की सारी नदियों नालों को मेगा टूरिज्म के नाम पर बेच देंगे।

नवभारत टाइम्स, दिल्ली में कार्यरत शाहनवाज मलिक के फेसबुक वॉल से.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *