बंगारू को बेनकाब करने वाले अनिरुद्ध बहल की हो रही जय-जय

नोट गिनते दिखने वाले बंगारू लक्ष्मण जेल गए. भाजपा नेता बंगारू की इस करतूत को जनता के सामने लाने वाले पत्रकार का नाम है अनिरुद्ध बहल. ऐसी साहसिक पत्रकारिता करने वाले अनिरुद्ध बहल को हर तरफ से बधाइयां मिल रही हैं. खासकर फेसबुक ट्विटर पर लोग उन्हें भरपूर समर्थन देते हुए इस करनी के लिए सलाम कह रहे हैं. पर इसी के साथ यह सवाल भी उठ रहा है कि आखिर अब कोई अनिरुद्ध बहल जैसा काम क्यों नहीं करता? करप्शन कम नहीं हुआ बल्कि बढ़ा है, पर मीडिया हाउसेज में ताकत नहीं कि वे किसी बड़े नेता का स्टिंग करें, क्योंकि ज्यादातर चैनलों के मालिकों की बड़े नेताओं से फटती है या फिर फंसी हुई है. ऐसे में वे अब बड़े नेताओं के करप्शन को बचाते हुए उनके करप्शन के धन में हिस्सेदार बन जा रहे हैं.

नए खुल रहे चैनलों अखबारों में ज्यादातर पैसे बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं या अपनी कंपनियों के मूल धंधे को चमकाने के लिए सेटिंग-गेटिंग करने में. तब अगर कोई अनिरुद्ध बहल ऐसा स्टिंग कर भी लेगा तो क्या उसे कोई दिखाएगा? पर उम्मीद की किरण न्यू मीडिया, सोशल मीडिया है. अभिषेक मनु सिघंवी की सीडी तो सबके सामने आ गई लेकिन मेनस्ट्रीम मीडिया ने इसे नहीं दिखाया. सब के सब चुप्पी साध गए. एक महिला वकील खुद को जज बनाने की बात कहते हुए सिंघवी के साथ सेक्स करती है और सिंघवी भी सहर्ष इस प्रस्ताव को स्वीकार कर उसे मंजिल पर पहुंचाने की बात करते हैं, पर इस सीडी को किसी न्यूज चैनल और अखबार ने नहीं छापा दिखाया. पर यूट्यूब, फेसबुक, ट्विटर आदि माध्यमों के जरिए सिटिजन जर्नलिस्टों ने यह काम कर दिया. सीडी हर जगह पहुंची और ज्यादातर ने देखा. पर इस देश की जनता को देखना बाकी है कि उसके सिस्टम में किस तरह बड़े नेता बड़े अनैतिक काम कराने के नाम पर धन लेते हैं या सेक्स करते हैं.

अनिरुद्ध बहलफिलहाल तो आज का दिन अनिरुद्ध बहल की पत्रकारिता को सलाम करने का है. साथ ही एक पत्रकार मित्र मयंक सक्सेना ने सिंघवी सेक्स सीडी को लेकर जज-अदालत की मंशा पर कुछ सवाल उठाए हैं, उसे पढ़ने का है. ध्यान रखिए, उम्मीद अब कारपोरेट मीडिया हाउसों व मेनस्ट्रीम मीडिया हाउसों से कतई नहीं है. उम्मीद की किरण ये युवा पत्रकार ही हैं, सिटिजन जर्नलिस्ट ही हैं जो न्यू मीडिया माध्यमों का सार्थक इस्तेमाल कर सिस्टम के बेहद भ्रष्ट व भयंकर चेहरे को सामने लाने का काम कर रहे हैं ताकि जनता का इन नेताओं और इस सिस्टम से मोहभंग हो सके. तो अनिरुद्ध बहल को सलाम करने के साथ साथ न्यू मीडिया के ज्ञात-अज्ञात उन साथियों का भी सलाम करने का मन कर रहा है जो अपनी सक्रियता से कई तरह के करप्शन को सामने ला रहे हैं. नीचे फेसबुक पर अनिरुद्ध बहल को दी जा रही बधाइयों में से कुछ एक बधाइयों को प्रकाशित कर रहा हूं, साथ ही वो अनिरुद्ध बहल की टीम द्वारा शूट किया गया वो वीडियो जिसमें बंगारू नोट गिनते हुए दिख रहे हैं.

यशवंत

एडिटर, भड़ास4मीडिया

yashwant@bhadas4media.com


Ajit Anjum : बीजेपी का बांगरू गया चार साल के लिए अंदर ……अनिरुद्ध बहल की पत्रकारिता का सलाम …

        Hemant Mishra salaam…
 
        Sudhir Kumar Pandey aaj bjp anath ho gyi….ram pehle he ruthe thea …ab lakshman bhi chor chale….
 
        Ankit Mutreja Sachmuch Sir manna padhega .. Salam aise patrkar ko. Aaj ka din sandesh hai un logo ko jo hamare diye ka atta khake ghotale karne se baaj nahi atey.
   
        Ranjan Rituraj आज भाजपा का ध्वज आधा झुका रहेगा !
    
        Arvind Ojha Bjp ke chakkar log khabr karne wale ko bhol rahe they..Baat patrkarita ki pahle ho to achha hai..wakai sting karne aur karwane wale ko salam 🙂
     
        Harishankar Shahi पर अभिषेक मनु सिंघवी पर सन्नाटा क्यों है.
      
        Ankit Mutreja Wo din ke jiska vada hai ham dekh rahe hai .. Jab ghotale baaj jail bheje jayenge .. Apni karni par aasu bahaenge ham dekhenge:)
 
        Bhaskar Juyal पहली बार सही अंजाम तक पहुंचा स्टिंग ऑपरेशन
 
        Chanchal Tripathi अनिरुद्ध बहल को मैं भी सैल्यूट करता हूँ ।।
   
        Ranjan Rituraj श्रीमान शाही : क्या आप पत्रकार है ?? सेक्स स्कैंडल और रक्षा सौदा दलाली में आपको फर्क नहीं समझ में आता है ..क्या ?? हद हाल है !
    
        Harishankar Shahi श्रीमान ऋतुराज: आप पता नहीं क्या है? हमें फर्क समझ आये या नहीं आये पर इतना तो समझ आता ही है कि एक ओर पूरी तैयारी के साथ स्टिंग किया गया और दूसरी तरफ मनमाने लाभ लेकर न्याय व्यवस्था में घुसपैठ की बात है. शायद आपको न्याय और अन्याय में फर्क नहीं दिखता है …क्या?? बेहद हाल है/
     
        Ankit Mutreja Mei mobile se onl9 hu isliye thik se samvad nahi kar pa raha.apni smjh se itna kahunga ke sex prakran ki bat filhal nahi abhi iss sahas ki jit ki khusi manaye.
      
        Ranjan Rituraj ‎@श्रीमान शाही : भाई …हम पत्रकार नहीं हैं ! उफ्फ्फ्फ़….. !
       
        Rajiv Kishor अजीत जी, देश में कई तरह के रिश्वतखोर बरकरार हैं और घोटाले आज भी बदस्तूर कायम हैं। अनिरुद्ध बहल ने वाकई शानदार पत्रकारिता की…लेकिन आज आप एक चैनल के प्रमुख हैं…मैं एक दर्शक की हैसियत से पूछ रहा हूं कि क्या आपके चैनल में एक भी ऐसा रिपोर्टर नहीं है जो किसी घोटाले को उजागर कर सार्थक पत्रकारिता का उदाहरण पेश करे।
         
        Chanchal Tripathi राजीव जी बिल्कुल हैं ।।
         
        Rajiv Kishor ‎@ चंचल जी, मैं क्या हूं…आपने लिखा है कि राजीव जी बिलकुल हैं…
         
        Chanchal Tripathi किशोर जी, मेरा कहना था कि अजित जी के चैनल में ऐसे पत्रकार हैं जो तहलका जैसे स्टिंग कर सकते हैं ।
         
        Rajiv Kishor ‎@ chanchal आमीन…देश इंतजार कर रहा है…अगर हैं तो उन्हें जगाइए…क्योंकि अगर वाकई में हैं..तो यकीनन वो सो रहे हैं या फिर बाइट कलेक्टर की भूमिका निभाकर ही मस्त हैं…
         
        Mayank Jain Bangaru Laxman is a simpleton who was a soft target and an easy prey. The real sharks are laughing their way to Swiss Banks.
         
        Vijay Prakash Singh अजीत जी कई पत्रकार पाजामे से शुरू करके चैनल के मालिक बन गए और राजनीति , क्रिकेट सबमे छाये हुए हैं | जिन्हें कभी इस बात का फक्र था कि वे ही सबसे बड़े फिक्सर हैं | आज भी मजे में है और अट्टाहास कर रहे हैं |मगर फंसता वही है जो थोड़ा कम चालाक होता है |
        
        Mayank Jain One lakh rupees for an arms deal? Or was it one lakh crore with some zeroes missing?
         
        Chanchal Tripathi राजीव जी सही मौका मिला तो जरूर कई चेहरे बेनकाब करूँगा । धन्यवाद
         
        Mayank Jain No stings for any Congress bigwigs by Tehelka? Oh! Sorry ! they might have been too honest…
         
        Mayank Jain My only objection to Abhisex is that he did not use a condom
         
        Rajiv Kishor ‎@ chanchal tripathi भाई चंचल जी, आप दिल पर ना लें….मेरा यह सवाल सिर्फ और सिर्फ अजीत अंजुम जी से है
        
        Prashant Pathak सलाम सच में पत्रकारिता को देश के साथ पंगा ले रहा था बंगारू …………..रक्षा सौदे में दलाली का मतलब माँ को गाली इतने दिन सिसका अब चार साल भुगतेगा भी …………
         
        Mayank Jain Somebody was giving Bangaru one lakh — a bait: he took it. He may not have helped in the defence deal. Politicians take money and seldom do any work. So there was no raksha deal as such. One lakh is no brainer. No raksha deal will be this low.
         
        Ankit Mutreja Aaj tak
        (bjp-bangaru jail pahuche)
         
        Naveen Tewari Cong ka kab jayega,
         
        Dilnawaz Pasha क्या भ्रष्टों की भी कोई पार्टी होती है?
         
        TC Chander इस पर तो लड्डू होते हैं!
         
        Puneet Mishra हमेंसा सदाचार की बात करने बाली राष्ट्रीय पार्टी भाजपा क्या अपने दामन लगे इस दाग को साफ कर पायेगी…………
         
        Arun Shukla सर कांग्रेस में अभिषेक मनु सिंघवी पर सन्नाटा क्यों है.में अनिरुद्ध बहल को दिल से सैल्यूट करता हूँ ।।क्याकि पहली बार सही अंजाम तक पहुंचा स्टिंग ऑपरेशन और कांग्रेस को 2009 से 2012 तक के भ्रष्टाचार जो किया है वो भी हम और आप से छुपा नहीं है और कोमंवाल्थ गेम हम को नहीं भूलना चाहिए ..सर आज देश कंगाल होगया है कांग्रेस वाले बीजेपी को बोल रहेहै
         
        Rajan Chopra अनिरुद्ध बहल की पत्रकारिता का सलाम नहीं बल्कि "को" सलाम


Anuranjan Jha : आखिरकार … राम को बदनाम करने वाले लक्ष्मण ४ साल के लिए अंदर.. श्री अनिरुद्ध बहल को सैल्यूट.. और हम खुशनसीब भी हैं कि अनिरुद्ध के सानिध्य में काम करने का मौका मिला .. खोजी पत्रकारिता का बेताज बादशाह और मेरे करियर का सबसे अच्छा बॉस.. सलाम

Sanjeev K Jha In a time where Missionary Journalism is dying, he did it on the great personal risk….Humble Salute to Mr. Aniruddha Bahal…
 
Sanjeev K Jha ‎72 years age, without any post, Twice times bypass surgery, diabetes, fatness and knee pain with money and wine addiction and now 1 lack fine and 4 years in jail. What a great punishment. 🙂
 
Rajendra Joshi Anirudh Bahal bhai ke sangharh ko bhi yaad rakhna hoga hum sabko in sallon mai unhone kitna sangharsh kiya wo kabhiletariif hai yani unki himmat ko dad deni hogi ……
 
Marut Pandey BANGAAROO to gae par unkaa kyaa jo aaj bhee khule goom rahe hain
 
बाबा बिगडैल राम lekin anuranjan jI aapki khoji patrakarita bhee unhi logo ke liye hai jo thode bhrshatachar ke paise ko akele dakarte hai… jo hajaro karod dakar rahe hai , unke khilaf khoi sting operation nahee huwa…
 
Satyajeet Chaudhary Boss ko salam……..


Dilnawaz Pasha :  मतलब अगर अच्छी पत्रकारिता हो तो बड़े दलाल भी जेल जा सकते हैं….
 
        Ashutosh Dubey जय हो…सब संभव दिख रहा है भाई…!
   
        Vikash Dagar और अगर पत्रकार अच्छा हो तो दलाली रोकी भी जा सकती है….
    
        Vivek Kumar बेशक जा सकते है वो भी और अगर उल्टा पड़ गया तो अच्छे पत्रकार चले जायेंगे
     
        Lalit Sharma Mr Pasha is on the way to be "Best PATRAKAAR of the year" best wishes 🙂


Ganesh Tiwari : भाजपा के भस्मासुरों की कतार लम्बी है, आज दो मामलों में कथित सुचिता की पक्षधर पार्टी असहज हो गई- पहला बंगारू लक्ष्मण और दूसरे बाबा रामदेव. बंगारू जी तो सीधे सीधे उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष ही थे, उनकी पोल खोलने के बात उन पत्रकारों को दारूण दुःख देने की भी कोशिश की गई. लेकिन आज पल्ला झाड़ ही लिया. एक वीर ही सामने आये -कटियार जी. अप्रत्यक्ष और मजबूत सहयोगी ने यूपी में कुछ भी लाभ नहीं दिलाया, इसकी खीझ भी आज निकल गई- सचिन के बहाने ही सही हर मामले में बकर करने वाले बाबा को हद में रहने की हिदायत देनी पडी. इनके अतिरिक्त पुराने भस्मासुर खार खारे बैठे ही हैं तो बहुत से अपनी बारी का इंतज़ार कर रहे हैं. शिव जी को एक से ही मुक्ति पाने में भारी मशक्कत करनी पडी थी, यहाँ तो भरमार है.


क्लिक करें, बंगारू का वीडियो देखने के लिए, इस लिंक पर…

http://bhadas4media.com/video/viewvideo/599/media-music/tehalka-sting-bjp-ex-supremo-bangaru-laxman-convicted.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *