बच्चों का भविष्य संवारना छोड़ नेताओं का चाटुकार और मीडिया का दलाल बना शिक्षामित्र

चित्रकूट कार्यालय : समाजसेवा एवं पत्रकारिता का लबादा ओढने वाला एक शिक्षा मित्र इन दिनों एक राजनेता की चाटुकारिता एवं मीडिया की दलाली के लिए सुर्खियों में है। नेताओं से पत्रकारों को मैनेज करने का ठेका लेने वाला यह कथित शिक्षामित्र बिना नियमित स्कूल जाये वेतन लेकर जहां शिक्षक के पवित्र पेशे को कलंकित कर रहा है। वहीं एक गैर राजनैतिक संगठन का स्वयंभू अध्यक्ष बनकर यह शिक्षामित्र फर्जी बयानबाजी कर अधिकारियों को भी गुमराह कर उन्हे अपने प्रभाव में लेकर दलाली करने का काम कर रहा है।

गरीब बच्चों के भविष्य को संवारने के लिए सरकार द्वारा गांव-गांव तैनात किये गये अधिकांश शिक्षामित्र जहां पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे है वहीं जिला मुख्यालय से सटे एक गांव में तैनात कामचोर शिक्षामित्र समाजसेवा और पत्रकारिता का लबादा ओढकर राजनेताओं की चाटुकारिता एवं मीडिया की दलाली के लिए सुर्खियों में है। क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों का करीबी रिश्तेदार बताकर विद्यालय में तैनात स्टाफ पर धौंस जमाकर बिना पढाये मानदेय लेने वाला यह शिक्षामित्र जहां शिक्षक के पवित्र पेशे के साथ गद्दारी कर रहा है वहीं असलीयत बताने की बजाय अपने को समाजसेवी और एक तथा कथित पत्रकार संगठन का अध्यक्ष बताकर यह शिक्षामित्र खुलेआम दलाली करने का काम कर रहा है।

इन दिनों यह शिक्षामित्र लोकसभा का चुनाव लड़ रहे एक प्रत्याशी के लिए मीडिया मैनेजमेंट का ठेका लेकर चर्चा में है। अपने समर्थित प्रत्याशी के पक्ष में माहौल बनाने के लिए उक्त शिक्षामित्र अखबारों से जुडे कुछ एक रंगीन मिजाजी दोयम दर्जे के मीडिया कर्मियों को शराब और कबाब का इंतजाम करने के कारण भी खासा सुर्खियों में है। इसके अलावा गैर राजनैतिक संगठन के माध्यम से पृथक बुंदेलखंड राज्य निर्माण के आंदोलन का राग अलापने वाला यह शिक्षामित्र बीते विधानसभा चुनाव में टिकट लेने के बाद बुंदेलखंड कांग्रेस नाम के एक क्षेत्रीय दल को भी एन मौके पर धौका देने के लिए चर्चा में रहा है। समाजसेवा और पत्रकारिता का लबादा ओढकर अपने मूल कार्य के साथ विश्वासघात करने वाले उक्त शिक्षामित्र के विरूद्ध ग्रामवासियों द्वारा भी कई बार विभागीय अधिकारियों से कार्रवाई की मांग की जा चुकी है।

भड़ास को भेजे गए एक पत्र पर आधारित.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *