‘बुरा’ पत्रकार सुधीर चौधरी आया और छा गया, कहां गए महान पत्रकार… : यशवंत सिंह

Yashwant Singh : जब सारे महान, खोजी, सरोकारी और टीआरपीबाज पत्रकार सरकारी गाइडलाइन से अघोषित तौर पर आतंकित होने के कारण गैंगरेप कांड को भुलाने की तैयारी कर बैठे थे और धीरे-धीरे दूसरे मुद्दों पर शिफ्ट हो रहे थे, तभी एक 'बुरा' पत्रकार आया और ऐसा कर गया कि लोग उसकी हिम्मत की दाद दे रहे हैं. पीड़ित की पहचान उजागर न करने के सरकारी गाइडलाइन की परवाह न करने के पीछे जी न्यूज के मालिकों का भी सुधीर चौधरी को सपोर्ट रहा होगा, तभी यह संभव हो पाया पर दूसरे चैनल उस लड़के के चेहरे को ब्लर करके तो इंटरव्यू दिखा ही सकते थे.

दिल्ली गैंगरेप कांड के एक मात्र चश्मदीद और पीड़ित लड़की के लिए बस के भीतर बलात्कारियों से संघर्ष करने वाले लड़की के फ्रेंड को खोज निकालने और इंटरव्यू करके प्रसारित करने का काम सिर्फ सुधीर चौधरी ही क्यों कर पाए? आज अंग्रेजी के ज्यादातर चैनल और कई हिंदी चैनल उस लड़के के चेहरे को ब्लर करके सुधीर चौधरी द्वारा किए गए इंटरव्यू को दिखा चला रहे हैं.

जाहिर है, सुधीर चौधरी आज सिर्फ जी न्यूज पर ही नहीं बल्कि ज्यादातर अंग्रेजी चैनलों और कई हिंदी चैनलों पर भी प्रकट हो चुके हैं. इसे कहते हैं आना और छा जाना. इस शानदार और हिम्मत भरे इंटरव्यू के लिए सुधीर चौधरी और जी न्यूज दोनों बधाई के पात्र हैं. सैल्यूट यू सुधीर … जब कोई बुरा करे तो गरियाना चाहिए पर जब अच्छा करे तो जीभर तारीफ भी करनी चाहिए…

यह जरूरी नहीं कि जो बुरा हो वह अच्छा न करे और जो अच्छा हो वह बुरा न करे.. हमें चीजों, लोगों के बारे में खुले दिमाग से सोचना चाहिए. आप सोचिए, इतने सारे चैनलों में कार्यरत इतने महान, खोजी, सरोकारी, टीआरपीबाज पत्रकारों को क्यों नहीं मिला पीड़ित लड़का, जबकि उस लड़के के मन में इतना गुस्सा, इतनी बातें भरी हुई हैं बताने के लिए… ? यह काम सिर्फ सुधीर चौधरी ही क्यों कर पाए?? सुधीर चौधरी और जी न्यूज का यह कवरेज ऐतिहासिक और यादगार है… इस शानदार काम और दमदार वापसी के लिए सुधीर को बधाई…

Arvind Kumar znews par casedarz ho gya–zindal vale sudeerer choudhri ne ye interview kiya tha–1 case aur—uma khurana ki hay lag gayi inhe—–peedita ki bat apni zagah par uma khurana kand ki yad kare to pata chal jayega ki sudhir choudhri mahilao ke prati kitne sunder bhav rakhte hain–inke karn india news band ho gya–ab shayad zee ki bari hai–"
 
Myank Jogi maan gaye sar mr .choudhri ko wo h hi dabang ……midia ke dagang
 
शशांक शेखर badhiyan raajniti kar gaye…..
 
Vinayak Sharma सूचना के अधिकार वाले इस देश की जनता को यह जानने का अधिकार है कि दिल्ली सामूहिक बलात्कार के एक मात्र चश्मदीद, जीवित व पीड़ित गवाह ने १६ दिसंबर को जो त्रासदी व पीड़ा झेली उसे सभी जाने व समझे……!
 
Bhupendra Sharma Sonu tareef ke kabil hai sudheer chaudhry
 
Vinayak Sharma भड़ास4मीडिया पर पर मेरा नया लेख देखें और अपनी टिप्पणियां भी दे….धन्यवाद…!
लिंक :
http://news.bhadas4media.com/index.php/yeduniya/2005-2013-01-03-20-47-47?utm_source=feedburner&utm_medium=email&utm_campaign=Feed%3A+bhadasblog+%28Bhadas+blog%29
दामिनी के नाम पर कानून बनाने की मांग और उसकी सार्थकता

Jyanendra Nath Thakur Badhayee ke patra to zaroor hai, par Yashwant Singh sir, aapko lagta wo ladka sahi bayan de raha hai !
 
Rajkishor Bhagat badhai to deni hogi….
 
Harimohan Goel Zee ki bahaduri ko salaam, saare patrakaaro ko pranaam
 
Harshvardhan Tripathi दुष्कर्म की घटना के अकेले चश्मदीद को जी न्यूज एडिटर ने अपने पत्रकारीय पुनर्जन्म के लिए इस्तेमाल किया है। ये बहस चल रही है। बहस ये भी कि ऐसे संवेदनशील मसले की भी पैकेजिंग बड़ी घटिया हुई है। हमें लगता है कि ये दोनों बातें काफी हद तक सही हो सकती हैं। लेकिन, मेरी सामान्य बुद्धि इस घटना में इसलिए जी के साथ है क्योंकि, सुधीर ने जो किया ये उसे करना ही चाहिए। बड़ा दाग धोने का मौका जो उसके पास है। लेकिन, ये साहस दिखाने के बजाए टीवी के महान संपादक सरकारी स्थिरता पर क्यों लामबंद हैं। अब ये इंटरव्यू तो हमेशा सरकार पर उंगली उठाता रहेगा। दूसरी बात टीवी इतना ही संवेदनशील रहता है कि किसी भी घटना की पैकेजिंग अतिमहत्वपूर्ण होती है। कितनी भी संवेदनशील खबर पर घंटों न्यूजरूम में इस बात पर खर्च होते हैं कि कौन सा संगीत या गाना लगे कि और ज्यादा लोग इससे जुड़ जाएं। ये बहसें छोड़िए। सुधीर को दोषी ठहराते रहिए, जरूरी है। लेकिन, इस मुद्दे पर जी के साथ आइए, उसके साहस को सलाम कीजिए। वरना सरकारी चाबुक तो, तैयार है ही।
 
Govind Goyal ek luhaar kee
 
Ram Sunder 'Raju' Zee usase badhe aap jo aapane khulakar badhayee to di.. aapako sudhir ji ke sath badhayee
 
Sandeep Singh लोकतन्त्र में यदि सरकार सच को स्वीकारने की अपनी अक्षमता के चलते अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता के हनन की सीमा तक पहुंच जाए तो यह स्वयंसिद्ध हो जाता है कि सरकार लोकतान्त्रिक व्यवस्था में पूर्णत: असफल हो चुकी है. ऐसी सरकार को लोकतान्त्रिक व्यवस्था में बने रहने का नैतिक अधिकार ही नहीं रह जाता है. 1975 के आपातकाल के बाद आज पुन: एक बार सरकार यदि उस स्थिति में नहीं तो उस मनोदशा में अवश्य पहुंच गई है
 
Ashutosh Kumar badhai
 
Arzoo Javed aur mai bhi salaam karta hoon
 
Mayank Narayan gud one sudhir ji ….. keep it up…NIRAALA JI KI GOLDEN LINES FOR U SIR.. wah path kya pathik kushlta kya, jis pag mein bikhare shool na ho….. Naavik ki dhrya pariksha kya ,jab dharayein pratikool na ho…. well done sudhir ji everyone salutes u.. ignore DALAAL'S ……
 
Ajai Singh Boy is not victim u/s 376 or376 A,B,C,D, of IPC so sec 228A IPC does not cover interview of boy with Zee Tv,because he did not disclose the name victm during interview.
 
Sangeeta Tripathi Interview dekh kar to yahi lagta hain ki Dilli ab bilkul bhi dilwali nahi rahi…..Drought of Humanity…..Protest to achchhi baat hain lekin kya hume apane ander jhakne ki jaroorat nahi hain….itani thand mein kisi se itana nahi hua ki unake sharir par kuchh kapade daal dete…
 
Sangeeta Tripathi Good Job Zee News
 
Akash Verma Mai bhi salam karta hun
Ye gov puri taraha se badnam ho chuki hai aur sath hi sath delhi police…
Mujhe to ye samajh me nahi aa raha hai ki kyo is baat ko chupana chahte the kal yhi unke pariwR ke sath ho sakta hai to ve kya karenge….
Salam z news and company
 
Rajurai Rajurai ये है दिलेरी

Chandramauli Pandey Hats off…………!
 
Soumitra Roy समाज की इसी विचारधारा के चलते दागी चुनाव जीत जाते हैं, क्‍योंकि हम मान लेते हैं कि बुरा आदमी भी अच्‍छा कर सकता है। पर इस अच्‍छे काम में भला किसका हुआ यशवंत जी ?
 
Vikas Kumar very well said… yashwant jee…very well said…this makes u stand apart…
 
Syed Faizur Rahman sudhir jo badhai ,bilkul sahi kaha apney yashwant bhai…
 
Shama Qureshi galti insan hi kerte hein…or galti ko sudhara kaise jata hai ye sudhir+zee ne dikjhaya…bahot bahot badhai….
 
Vinay Pathak tamanna hai ki kashti kinare
tak pausche
 
Harishankar Shahi अब कम से कम सरोकार को तो लेकर रो लेंगे. वैसे भी उमा खुराना कितनो को याद होंगी…
 
Sushil Verma yashwant jee . apne thik kha. skaratmak soch ki kami ke karen hi desh ki tamam smasyai aj ulghi hui hai. is disha me kuch sanjida logo ko hi pahel kerni hogi.
 
Subhash Tripathi SalAam jajbe ko
 
Gyanendra Tripathi thanks sudhir
 
Durgaprasad Agrawal शाबास सुधीर!
 
Vishnu Sharan Rastogi Well done indeed.
 
Payal Chakravarty Well done sudhir Jee.. Tu na rukega kabhi, tu na thamega kabhi, kar shapath, agnipath,agnipath…best wishes!!!
 
सत्यभामा अवस्थी SABHI LOG SUDHIR KI DAD DE RAHE HAI , PER KAYA EK CHASHMDID GAVAH KA YU TRIAL KE PAHLE PUBLICALY BAYAN DENA , INVESTIGATION AVAM BACHAV PAKSH KE LIYE MADADGAR NAHI HO SAKTA KAYA ? KOI KANOON KE JANKAR IS PER VICHAR JARUR KAREN.
 
मुकेश भारतीय http://raznama.com/?p=16161
 
Chandan Srivastava श्योर है यही इस लडके को यही ढुंढ-ढान्ढ कर ले आये? या किसी और की मेहनत ने बिल्ली की भाग्य मे छींका तोड्वा दिया.
 
Chandan Bangari Sudhir chaudhari ke iss kam ki tarif e honi hi chahiye. Bahut khub kam kiya hai. Badhayi ke haqdar hain
 
प्रयाग पाण्डे चुपचाप बैठने का वक्त अब नहीं है ।
यों बेजवां रहोगे कब तक जुबान वालो ।
क्योंकि –
जब मैं करूँ सवाल तो कहते है चुप रहो ।
क्या बात है , जबाब नहीं , इस जबाब का ।
 
Sanjeev Shivansh ofcourse! it is.
 
Harish Singh good
 
Aditya Kashyap waaqai ye qaabile taarif hai aur ye islie sambhav ho paya hai kyuki sudhir chowdhary patrakarita ko mahatva dete na ki naukri or patrakarita nispaksh hoti ,nyaypurn or khoji hoti hai uska matlab hi hota hai duniya k saamne sach lana chahe wo achha ho ya bhayavah…sudhir jee k saahsik kadam kai naye patrakaro or mujh jaise naujawano k lie prerna strot hai ..is sach or saahas k lie koti koti naman sudhir jee
 
Kumar Peyush Tihad jakar bhi sudhra nahi sudhir chaudhary….delhi me tamam mathadheesh sampadakon ki dukano ko tala lagwa kar hi manega ye…bechare sarkar ke payroll pe media ki guideline tai kar rahe the….sabki mansha pe pani fer diya sudhir ne….sudhir ko meri & aur un patrakaro ki dili badhai jo is kakas ko bhed na sake…
 
Sandeep Verma agreed
 
Santosh Kumar Singh thank you sudhir lekin es bar kisi se paise mat magana
 
Rajnish Tara sudhir ji ko thanx bolna to theek hai par hame is baat ki chinta honi chahiye ki wo balatkari hatyaro ko fansi ki saja hi honi chahiye ye hi kanoon ki jeet hogi
 
Vasant Joshi Bahut achha likha hai Yashwantji, Wakaie Sudhirji ne damdar wapsi ki hai.

भड़ास4मीडिया के एडिटर यशवंत सिंह के फेसबुक वॉल से. फेसबुक पर यशवंत से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ सकते हैं-

http://www.facebook.com/yashwant.bhadas4media


जी-जिंदल प्रकरण की सभी खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें-

zee jindal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *