भड़ास को समर्थन दें, भड़ास को मजबूत करें

अगर आप आजतक भड़ास के सिर्फ पाठक रहे हैं, पर लिखने और कहने का कुछ मन करता है तो अभी लिख दीजिए अपने मन की बात और भेज दीजिए bhadas4media@gmail.com पर. इस मेल आईडी को अपने यहां सेव कर लें. इसी मेल आईडी पर आप मीडिया से जुड़ी कोई भी सूचना, खबर, जानकारी, एवार्ड, किताब आदि के बारे में लिख भेज सकते हैं. भेजने वाले ने अगर अपने नाम व पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध किया तो उनके अनुरोध का हर हाल में सम्मान किया जाएगा और पूरी गोपनीयता बनाए रखी जाएगी.

भड़ास नाम भरोसे का है और इसकी पूंजी है भरोसा, इसलिए नाम पहचान लीक होने की चिंता आप कतई न करें. भड़ास एक ऐसा मंच है जो उन खबरों को साहस के साथ जगह देता है जिसे अन्य कोई अखबार चैनल पोर्टल नहीं दिखा बता सुना प्रकाशित कर पाते. भड़ास नए जमाने की मिशनरी पत्रकारिता का दूसरा नाम है. भड़ास और इसकी टीम के लोग मीडिया होने का कोई सरकारी लाभ नहीं लेते. इस पोर्टल का संचालन डोनेशन और यदा कदा मिलने वाले छोटे मोटे विज्ञापनों के जरिए किया जाता है.

भड़ास को समय समय पर गुप्त आर्थिक मदद देने वाले करीब दर्जन भर लोग हैं जिनके बल पर यह पोर्टल संचालित किया जाता है. भड़ास उन लोगों की आवाज है जो सिस्टम से त्रस्त होकर लड़ भिड़ रहे हैं और अन्याय के खिलाफ एक ज्योति जलाए हुए हैं. भड़ास नाम है उस मंच का जहां शत्रु, मित्र, समर्थक, विरोधी, अराजक, शालीन सभी का लिखा भेजा समान भाव से छापा जाता है, यहां तक कि भड़ास के संस्थापक व संपादक के खिलाफ लिखी गई पोस्टों को भी पूरे सम्मान व प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया जाता है.

इस मंच को समर्थन दें. इस मंच को डोनेशन दें. इस मंच को मजबूत करें. इस मंच का हिस्सा बनें. आपका छोटा-सा सपोर्ट इस पोर्टल व इसकी टीम के लिए जीवनरेखा के समान है. इसलिए सपोर्ट की इच्छा अगर मन में हो तो झिझकें नहीं, इजहार करें, अपनी बात bhadas4media@gmail.com पर मेल करें.

फेसबुक पर भड़ास से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- https://www.facebook.com/bhadasmedia

भड़ास के सुख-दुख और भड़ास की आर्थिक सेहत से संबंधित जानकारियों के लिए नीचे दिए गए शीर्षकों पर क्लिक करें…

भड़ास को दो चेक मिले, दानदाताओं का आभार

दो पत्रकारों ने 3100 रुपये दिए

तैंतीस हजार रुपये की मदद

इक्यावन सौ रुपये का डोनेशन

चंदे के रूप में साढ़े सात हजार

भड़ास4मीडिया दिक्कत संकट

भड़ास4मीडिया को सुझाव1

भड़ास4मीडिया सुझाव2

आपके संघर्ष में हमारी भी 'एक बंद मुट्ठी'!

आनंद की तरफ से भड़ास4मीडिया को 11111/-

शिबली व विजय की तरफ से हजार-हजार रुपये

भड़ास को दो हजार रुपये की भेंट

विकीलिक्स और विकीपीडिया का मॉडल बनाम भड़ास4मीडिया की चिंता

tag- Support B4M

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *