भारत-नेपाल सीमा पर भारतीय मुद्रा का अकाल

महाराजगंज। जब से नेपाल में भारतीय बड़े नोटों 5 सौ और 1 हज़ार पर प्रतिबन्ध लगाया गया है, तबसे भारत नेपाल की सीमा पर भारतीय मुद्रा का अकाल सा पड़ गया है। नेपाल में आईएसआई की बढ़ती हलचलों और लगातार बरामद हो रही भारतीय जाली नोट के को देखते हुए नेपाल राष्ट्र बैंक ने भारतीय बड़े नोटों पर प्रतिबन्ध लगा दिया है। भारतीय बड़े नोटों के साथ पकडे जाने पर वहां का प्रशासन त्वरित कार्यवाही भी करता है।

इस प्रतिबन्ध से जाली नोटों पर शिकंजा तो जरूर कसा है पर सीमा पर बसे व्यापारी हलकान हो रहे हैं। वहीं नेपाली से भारतीय मुद्रा करने वाले दलाल मालामाल हो रहे हैं। बताते चलें कि भारत नेपाल की सीमा पर भारतीय इलाकों में बसे कुछ लोग अवैध रूप से नेपाली मुद्रा को भारतीय मुद्रा में बदलने का काम किया करते हैं। जिनमें उन्हें करीब 5 से 6 प्रतिशत की आमदनी हुआ करती है, पर प्रशासन अब तक इसपर कोई कारगर कदम नहीं उठा सका है, जिससे मनी एक्सचेंज करने वालों का मनोबल सातवे आसमान पर है। सीमाई कस्बों के व्यापारी 166 रुपये नेपाली दे 100 रुपये भारतीय मुद्रा लेने को विवश हो रहे हैं। जबकि 160 रुपये नेपाली मुद्रा का मूल्‍य 100 होता है।

महाराजगंज से अरुण कुमार वर्मा की रिपोर्ट.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *