मुंबई व इटावा कांड के खिलाफ पत्रकारों में गुस्सा, कई जगहों पर सभाएं व जुलूस

मुगलसराय। मुंबई में महिला पत्रकार के साथ समाचार संकलन के दौरान हुए गैंग रेप व उत्तर प्रदेश के इटावा क्षेत्र में पत्रकार की हत्या के विरोध में स्थानीय लाल बहादुर शास्त्री पार्क से नगर के समस्त पत्रकारों द्वारा एक मौन जुलूस निकाला गया। जुलूस नगर भ्रमण करते हुए नेता जी सुभाष पार्क में जाकर गोष्ठी के रूप में तब्दील हुआ। गोष्ठी की अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार भागवत नरायण चौरसिया व संचालन कमलेश तिवारी ने किया।
इस दौरान वक्ताओं ने इस कुकृत्य की कड़े शब्दों में भर्त्सना करते हुए कहा कि दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दी जाए तथा पत्रकारों को प्रशासन के द्वारा सुरक्षा मुहैया कराई जाए। साथ ही साथ कहा कि पिछले सपा सरकार में शासन ने पत्रकारों की समस्याओं के निराकरण के लिए पृथक पीआरओ की व्यवस्था की थी जिससे उनकी समस्याओं का तत्काल निराकरण संभव हो पाता था। परन्तु वर्तमान सपा सरकार के लगभग दो वर्ष पूर्ण होने पर भी उक्त व्यवस्था अभी तक लागू नही की गयी है, जिससे पत्रकारों की समस्याओं का समुचित व तत्कालिक समाधान होना संभव नहीं हो पा रहा है।
 
इस दौरान करूणापति तिवारी, संजय अग्रवाल, विनय वर्मा, राजीव कुमार, सरदार महेन्द्र सिंह, एल उमाशंकर, सरदार कमलजीत सिंह, महेन्द्र प्रजापति, राजेन्द्र प्रकाश यादव, मनोहर गुप्ता, धर्मप्रकाश, आशाराम यादव, संदीप कुमार, ज्ञानप्रकाश धर दुबे, संजय गुप्ता, फैयाज अंसारी, कृष्ण कुमार गोंड, कृष्णा गोंड, मारूफ अंसारी, इखलाक अहमद, नंद लाल नंदू, राजू इकबाल, धमेन्द्र कुमार, अखिलेश श्रीवास्तव, पी धंनज्जय , विजय जायसवाल आदि पत्रकार मौजूद रहे।


लखनऊ : उत्तर प्रदेश फोटोजर्नलिस्ट एसोसिएसन द्वारा मुंबई में महिला फोटोजर्नलिस्ट के साथ हुए गैंग रेप व इटावा में पत्रकार की गोली मारकर हत्या किये जाने के विरोध में 24 अगस्त 2013 को लखनऊ के हजरतगंज गाँधी प्रतिमा पर कैन्डिल जलाकर व विरोध सभा कर के सारे छायाकारों द्वारा विरोध प्रकट किया गया। इस मौके पर आयोजित सभा में एसोसिएसन के अध्यक्ष रुपेश कुमार ने कहा कि यह घटना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण व निन्दनीय है जिसका उत्तरप्रदेश फोटोजर्नलिस्ट एसोसिएसन सारे फोटोजर्नलिस्टों की तरफ से घोर निन्दा करता है।

संगठन के कोषाध्यक्ष गोपी रस्तोगी ने दोषी आरोपियों की गिरफ़्तारी व सख्त से सख्त कार्यवाही की माँग की है। संगठन के महामंत्री एरिक सिरिल थाम्पसन ने सभा में कहा अब समय आ गया है कि सिर्फ सख्त कानून बनाने से काम नहीं चलेगा रेप व हत्या जैसे अपराधों में लिप्त आरोपियों को सिर्फ और सिर्फ फाँसी की सजा की दी जाए। इस मौके पर एसोसिएसन के संरक्षक व सीनियर फोटोजर्नलिस्ट प्रदीप शाह जी भी उपस्थित थे। विरोध सभा में लखनऊ के छायाकार अशफाक अहमद, आशुतोष गुप्ता, सुशील सहाय, सुरेश वर्मा, विजय पिंटू, हेमन्त चौहान, मनीष वर्मा, संजय सोनकर, धर्मचन्द, मिथलेश त्रिपाठी, अरुण यादव बबलू, ब्रजेश तिवारी, हरजिन्दर सिंह, इन्द्रेश रस्तोगी, जगत सिंह, शैलेश गुप्ता, अतहर रजा, अर्जुन साहू प्रमोद शर्मा, राजकुमार,बबलू शर्मा व समाज सेवी मयंक रंजन सहित भारी संख्या में फोटोजर्नलिस्ट मौजूद रहे।

पंचकूला : मुंबई में महिला फोटोग्राफर के साथ हुए गैंगरेप के मामले के विरोध में रविवार शाम को पंचकूला प्रेस क्लब पंचकूला की ओर से कैंडल मार्च निकाला गया। जिसमें आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवई करने के साथ कठोर सजा की मांग की गई। इस मामले में जल्द ही क्लब की ओर से उपायुक्त को एक ज्ञापन दिया जाएगा। इस मौके पर सामाजिक एवं राजनैतिक संगठनों लोग भी उपस्थित थे। उन्होंने भी इस मामले की निंदा की और कहा कि प्रेस लोकतंत्र का चौथा सतंभ है। इसके कर्मचारियों के साथ एेसी घटना होगा दुर्भाया पूर्ण है। प्रेस क्लब के प्रधान रोहित रोहिला, महासचिव सुरेंद्र गोयल एवं कोषाध्यक्ष राजेश मलकानियां ने कहा कि यह एक शर्मनाक घटना है। उन्होंने कहा कि अगर समाज में पत्रकारों के साथ एेसी घटनाएं होगी तो केसे चलेगा। उन्होंने इस मामले में उपायुक्त को ज्ञापन देकर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवई करने की मांग करंगे। इस मौके पर कांग्रेसी रंजीता मेहता ने कहा कि यह एक शर्मनक घटना है। हजकां नेता दलबीर सिंहं बाल्मिकी ने भी महिला फोटोग्राफर के साथ हुई रप की घटना की निंदा करते हुए आरोपियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई करने की मांग की। इस मौके पर सुधा जग्गा, संजय राय, करूणा जिंदल, दयानंद चौधरी, कमल कलसी, रामचंद्र, अमित, विजय, संत अरोडा,सत्यनारायाण गुप्ता, विनोद शर्मा, अजय गुप्ता, कुलबीर दिवान, अनिल, राजेश मलकानियां, सुरेंद्र गोयल, जगदीश भगत सिंह, विजय, केपी अरोडा, सहित अन्प्य लोग उपपस्थित थे।


DUJ Condemns Sexual Assault on Mumbai Journalist

The Delhi Union of Journalists expresses its outrage at the sexual assault on a woman photojournalist in Mumbai while she was on an assignment for her magazine.  The daylight rape in the heart of the metropolis has shocked us.  We also condemn the attack on her male colleague and demand immediate arrest and speedy prosecution of the criminals responsible.    
 
The Gender Council of the DUJ notes with concern the growing backlash against the increasing entry of women into the public and professional spheres that is taking violent forms, ranging from sexual harassment to acid attacks, rape and murder. 
 
The DUJ supports the Maharashtra state government’s announcement of trial in a fast track court once the criminals in the photojournalist’s case are arrested. However, we demand that all such cases are fast tracked. Judicial delays and low conviction rates are at the heart of the denial of justice to many rape victims.
 
DUJ expects the employers of the two journalists to pay their medical bills and provide compensation for injuries incurred while on duty. We urge media employers to provide safe transport and take security measures to protect all employees, including women working night shifts or covering assignments that entail serious risk.  In recent times the special vulnerability of women journalists has come to the fore with the arbitrary arrest of a reporter for alleged involvement in the mafia murder of her colleague, the discovery of a woman editor who was rendered homeless and living outside a gurudwara and other such episodes.  We call for greater vigilance and solidarity within the profession.
 
 The DUJ calls for a risk insurance cover for all journalists in the country covered under the wage board or on contract basis, taking into account increasing reports of press bashing. Newspaper managements and the government have to take this responsibility in an explosive situation where journalists are being exposed to increasing attacks.
 
It welcomes the suo moto intervention by the Chairman of the Press Council of India.
 
 
Sujata Madhok                                                                                      
President   
S.K. Pande
General Secretary

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *