यशवंत सिंह पर अत्याचार के खिलाफ महाराष्ट्र में गूंजी आवाज, गृह मंत्री बोले- जांच कराएंगे

मुंबई : महाराष्ट्र के पत्रकारों ने भड़ास4मीडिया के संस्थापक और संपादक यशवंत सिंह समेत देश भर के पत्रकारों का पुलिस प्रशासन द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न के खिलाफ आवाज उठाई. मुंबई के आजाद मैदान पर पत्रकारों ने पिछले दिनों धरना प्रदर्शन किया. सीएम या डिप्टी सीएम या गृह मंत्री में से किसी एक के द्वारा वार्ता न किए जाने और मांगें न माने जाने की स्थिति में सड़क पर उतरकर जाम लगाने की धमकी भी पत्रकारों ने दे डाली.

इससे घबराए प्रशासन ने पूरे इलाके को पुलिस के घेरे में ले लिया और किसी भी स्थिति से निपटने की तैयारी कर डाली. देखते ही देखते आजाद मैदान के इर्द गिर्द सैकडो़ं की संख्या में महिला व पुरुष पुलिसकर्मी तैनात हो गए और पत्रकारों को एक तरह से घेर लिया गया. पर उसी वक्त ये सूचना आई कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री आरआर पाटिल ने पत्रकारों को बातचीत के लिए बुलाया है. पत्रकारों का एक दल गृह मंत्री से मिला और अपना ज्ञापन सौंपा. लंबी बातचीत के बाद गृह मंत्री पत्रकारों की सात में से छह मांग मानने को तैयार हो गए. इनमें भड़ास4मीडिया के यशवंत सिंह पर आपराधिक मुकदमें वापस लेने की मांग भी शामिल है.

आजाद मैदान पर धरना प्रदर्शन के मुख्य अतिथि भड़ास4मीडिया के संस्थापक यशवंत सिंह थे. उन्होंने पत्रकारों को संबोधित भी किया. इस आयोजन के बारे में संपूर्ण डिटेल नीचे दी गई प्रेस रिलीज में है, जिसे पढ़ने के लिए प्रेस रिलीज के उपर क्लिक कर दें. साथ में आयोजन की कुछ तस्वीरें.

((अगर उपरोक्त विज्ञप्ति पढ़ने में न आए तो विज्ञप्ति के उपर क्लिक कर दें))



संबंधित अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें… Yashwant Singh Jail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *