राजदीप के लिए दिल में सम्‍मान नहीं है तो शब्‍दों में कहां से लाउं?

: क्‍या अब भी मेन स्‍ट्रीम मीडिया को गुमान है कि वो चाहे तो खबरें दब सकती हैं? : Dilnawaz Pasha : ये फोटो जयपुर की है। इंटरनेट पर अभिषेक मनु सिंघवी की सेक्स सीडी देखकर युवा सड़क पर उतरे और पुतला भी फूंका। क्या अब भी मेनस्ट्रीम मीडिया इस गुमान में रहेगा कि वो चाहे तो खबरें दब सकती हैं?

Ashish Kumar 'Anshu' : ‎''अभिषेक मनु सिंघवी के मामले में एक और एंगिल है जिस पर शायद अभी तक किसी ने गौर नहीं किया है. कानूनी रूप से भी सिंघवी दोषी साबित हो रहे हैं. भारतीय दंड संहिता की धारा ४९७ के अंतर्गत यदि एक विवाहित व्यक्ति किसी दूसरी विवाहित महिला के साथ यौन सम्बन्ध बनाता है तो वह दोषी माना जायेगा जिसके लिए उसे कैद की सजा हो सकती है. हालांकि इस कानून के उलट अपनी नज़र में बस महिला को जज बनाने की वादा करना ही उनका अपराध है.''

नितिन यादव : क्या बात कर रहे हो जनाब, देश पर हमला करने वालो का तो कुछ हो नहीं रहा है इस सरकार में, अपने ही प्रवक्ता के खिलाफ कौन सी क़ानूनी धारा?

Dilnawaz Pasha : भाई जब मैंने पहली टिप्पणी की थी तब यही कहा था कि अडल्ट्री अपराध है। मनु सिंघवी कानून की मोटी-मोटी किताबों के साये में कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं।  मजे की बात यह है कि आज आईबीएन वाले राजदीप को जब इंटरनेट यूजर्स ने ट्विटर पर घेरा तो उसकी सफाई थी कि इसमें कोई अपराध नहीं हो रहा है। मैंने उन्हें जवाब देकर यही कहा था कि अडलट्री (Adultery) भारत में अपराध है। और सिर्फ यह ही नहीं, इंटरनेट पर अश्लील सामग्री का प्रचार प्रसार भी अपराध की श्रेणी में आता है। आप अगर सिंघवी को रिपोर्ट नहीं कर सकते तो कम से कम क्राइम को तो रिपोर्ट कर ही सकते हैं। लेकिन वो बड़ा संपादक है तो दवाब भी बड़ा ही होगा। खैर…..

(पहली बार मैंने किसी संपादक को बिना सम्मान दिए बात की है, क्या करूं….जब अब दिल में ही सम्मान नहीं है तो शब्दों में कहां से लाउं….)

Govind Piplwa :  ऐसी कोनसी खबर है जो आज तक दबी है सब का तो खुलासा हुआ है…पर सिर्फ सुर्खिया बटोरने के लिए..खबर पढ़ कर भी हमने क्या किया आज तक ये कोई समझाएगा मुझे..मेरे आदरणीय बड़े भाई…कब से सुन रहे है विदेशो मैं काला धन इसका है…उसका है…मगर किसको क्या फर्क पड़ा…मुझे तो नहीं लग रहा है की जिसका भी धन है उसे कोई फर्क पड़ा है..हम पुतला जला कर भले ही टाइम पास करले….

  DrRiazkhan Pathan : dilnawaz r u there on twitter wt is ur handle

DrRiazkhan Pathan : Rajdeep Sardesai

 to those who ask why Singhvi CD not shown, 2 main reasons: a) Court injunction on telecast b) sex between 2 consenting adults is no crime

DrRiazkhan Pathan : Rajdeep Sardesai@sardesairajdeepजवाब

You can attack the media's 'silence' I ask: why hasnt the opposition raised the issue. What explains their silence?

Dilnawaz Pasha : ‎DrRiazkhan Pathan My reply to Rajdeep

@sardesairajdeep Dear Mr. Rajdeep Adultery is crime in India and posting sexual content on internet is also crime. So just report the Crime

@sardesairajdeep The f sexual content on websites (of Singhvi or of many innocent little girls cheated by lovers) is a Big Crime. Report It.

Karn Dev Singh Tomar : sharam naam ki koi cheez nahi hai tm logon me

Shaikh Shakeel : badhaiya

Ashish Krishn Bajpai : now we can say ….Desh ….Meadia ….Sarkar inhone banaya Mera …..Mahan Desh…. 

Ashish Krishn Bajpai : most unfortunate….

Ashish Krishn Bajpai : ye log Kis mooooh se anna ko gali dete hai……………heeero styl me kahne walw Tiwari kaha hai………….. ki anna tum to sir se paon tak bhrastachar me lipt ho ………… hai usme mardangi ab is bat ko uthane ki,,,,,,,,,,,,,, jara dekhe to mardo wali jat mardo wali bat,,,,,,,,,,,

दिलनवाज पाशा के फेसबुक वाल से साभार.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *