विद्रोही शायर नहीं रहे मुनव्वर राणा!

Alok Ratn Upadhyay : मुनव्वर राणा को मैं एक विद्रोही शायर के रूप में जानता था- अब शायद नहीं जानूंगा…उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अभी उनको यूपी उर्दू अकादमी का प्रेसिडेंट बनाया है..मुबारक हो मुनव्वर राणा जी …

इस मौके पर आपका ही लिखा एक शेर याद आ रहा है –

'हुकुमत मुंहभराई के हुनर से खूब वाकिफ़ है ,
ये हर कुत्ते के आगे शाही टुकड़ा डाल देती है'

आलोक रत्न उपाध्याय के फेसबुक वॉल से.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *