वो बलात्कारी जेल गया और आईएएस बनकर कलेक्टर बन गया… न्यायपालिका और यूपीएससी की जय हो…

Shahnawaz Malik : अशोक कुमार राय। अपनी 21 वर्षीय छात्रा को यौन इच्छा बढ़ाने वाली दवाईयां खिलाकर बलात्कार किया करते थे। शादी का सपना दिखाकर उन्होंने यह काम मुसलसल जारी रखा। एक दिन अपने दोस्त के साथ सोने का दबाव बनाया तो लड़की ने खुदकुशी कर ली। सुसाइड नोट में आपबीती लिख गई। अशोक कुमार राय पर बलात्कार और आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप सिद्ध हुआ और आजीवन कारावास की सजा हुई।

लेकिन तिहाड़ जेल में सज़ा काटने के दौरान ही उन्होंने आईएएस की परीक्षा पास कर ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने उनपर से आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप हटा दिया, लेकिन बलात्कार का दोषी माना और उन्हें रिहा कर दिया गया। हाईकोर्ट ने कहा कि अशोक ने जेल में रहकर आईएएस की परीक्षा पास की है और यह अच्छे आचरण की पुख्ता दलील है। महज साढ़े पांच साल की सजा के बाद अशोक कुमार राय को रिहा कर दिया गया। उनके इस ट्रैक रिकॉर्ड पर यूपीएससी को भी कोई ऐतराज़ नहीं है। अब अशोक कलक्टर की कुर्सी पर बैठकर कहीं जिला संभाल रहे होंगे। न्यायपालिका और यूपीएससी की जय हो।

शाहनवाज मलिक के फेसबुक वॉल से.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *