शाहजहांपुर में खुसरो मेल के संवाददाता की गोली मारकर हत्‍या

उत्तर प्रदेश में सरकार अपराध रोकने में नाकाम साबित हो रही है। आम जनता तो परेशान है ही, लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को भी अपराधी बख्श नहीं रहे हैं। पुलिस पत्रकारों पर हो रहे लगातार हमलों को गंभीरता से नहीं ले रही है। इसी का परिणाम है कि यूपी में एक और पत्रकार को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है।

ताजा मामला शाहजहांपुर में खुसरो मेल के तिलहर तहसील संवाददाता सर्वेश शर्मा उर्फ सोनू की हत्या का है। पत्रकार सर्वेश तिलहर में खुसरो मेल के लिए रिपोर्टिंग करते थे और बाइक द्वारा प्रतिदिन तिलहर से निगोही अपने घर आते जाते थे। रोज की तरह गुरुवार को भी सर्वेश तहसील गए थे, लेकिन शाम को घर नहीं लौटे। परिजन रात भर उसकी चिंता में जागते रहे। उसका फोन भी मिलाया, लेकिन काल रिसीव नहीं हुई। सुबह करीब छह बजे उसकी लाश निगोही से करीब एक किमी दूर तिलहर मार्ग पर ग्राम पिपरिया खुशाली गांव के पास सड़क किनारे पड़ी मिली। पास में ही उसकी बाइक पड़ी थी। इस घटना से सनसनी मच गई। विलाप करते पहुंचे परिजनों ने पुलिस को सूचना दी।

पुलिस को एक किमी दूर घटनास्थल तक आने में ढाई घंटे लग गए। पुलिस भी तब मौके पर पहुंची, जब उच्चाधिकारियों को बताया गया। सीओ सदर शिष्यपाल क साथ पहुंची पुलिस को देखकर परिजन आक्रोशित हो गए। परिजनों ने घटनास्थल पर ही शव को रखकर जाम लगा दिया। इसी बीच एएसपी सिटी दयाराम सरोज भी आ गए। पुलिस ने लाश का मुआयना किया तो मृतक की कनपटी के पीछे और नाक पर घाव मिला। परिजनों का मानना है कि उसकी कनपटी पर गोली मारी गई। एएसपी के समझाने पर भी परिजनों ने जाम नहीं खोला। करीब बारह बजे एसपी रमित शर्मा ने मौके पर जाकर परिजनों को समझाया तब जाकर परिजन माने। इसके बाद सर्वेश का शव पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। घटना के बाद से जनपद के पत्रकारों में रोष और गुस्‍सा फैल गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *