स्टिंग में खुलासा : सोशल मीडिया के सहारे नेताओं को मश‍हूर या बदनाम बनाने का ठेका लेती हैं आईटी कंपनियां

नई दिल्ली : यह तो होना ही था. सोशल मीडिया का जलवा जब चरम पर हो तो क्यों न कुछ कंपनियां इसके जरिए अपना हित साधें. सोशल मीडिया पर कुछ आईटी कंपनियां नेताओं को मशहूर और बदनाम करने का काम करती हैं. इसके लिए वह इनसे भारी भरकम रकम वसूलती है. यह खुलासा खोजी वेबसाइट कोबरा पोस्ट ने एक स्टिंग ऑपरेशन के जरिए किया है और इन आईटी कंपनियों का पर्दाफाश किया है.

ऑपरेशन 'ब्लू वायरस' नाम के इस स्टिंग ऑपरेशन में तकरीबन दो दर्जन ऐसी कंपनियों का भंडाफोड़ किया गया है जो सोशल मीडिया के जरिए लोगों को बदनाम या मशहूर करने के लिए भारी-भरकम रुपए लेती हैं. इस खुलासे में यह दावा किया गया है कि आईटी कंपनियों के द्वारा यह काम नेताओं के लिए किया जा रहा है ताकि चुनावों में उन्हें उसका फायदा मिल सके. ऐसी आईटी कंपनियां मौजूद हैं जो फेसबुक, ट्विटर और दूसरी सोशल नेटवर्किंग साइट्स के जरिए लोगों को बदनाम या मशहूर करने के लिए लाख रुपये से करोड़ रुपये तक वसूलती हैं.

स्टिंग के दौरान यह खुलासा किया गया है कि इस काम के लिए ये आईटी कंपनियां फर्जी फेसबुक पेज बनाकर उन्हें अपने कर्मचारियों से लाइक करवाती हैं या फिर लाइक्स खरीदती हैं. कंपनियों ने एक वायरस की मदद से लाइक्स बढ़ाने का भी प्रस्ताव रखा. स्टिंग के मुताबिक इस वायरस के जरिए फेसबुक और ट्विटर पर फैन्स की संख्या कई गुना तक बढ़ाई जा सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *