हत्यारा है रजत शर्मा…

Yashwant Singh : टीआरपी के लिए पगलाए रजत शर्मा ने कथित पीड़िता को न्याय दिलाने का कथित अभियान जोरशोर से ढोल बजाकर अपने चैनल इंडिया टीवी पर शुरू किया… तैयारियां काफी पहले से की थी उसने… दिखाने के लिए दिन चुना 16 दिसंबर… रजत शर्मा का यह टीआरपीबाज प्रयोग, यह मीडिया ट्रायल खूनी साबित हुआ… रजत शर्मा के हाथ खुर्शीद अनवर के खून से रंगे हैं…

टीआरपी के लिए कथित पीड़िता को आगे कर रजत शर्मा खुद पुलिस वाला बन गया… रजत शर्मा खुद अदालत बन गया… रजत शर्मा खुद जज बन बैठा.. उसने फैसला सुना दिया था… उसने खुर्शीद अनवर को आरोपी बना दिया.. उसने लड़की को न्याय दिलाने के अभियान का ऐलान कर दिया…

रजत शर्मा का यह टीआरपीबाज मीडिया ट्रायल खुर्शीद अनवर को इतना गहरा सदमा दे गया कि उन्होंने मौत को गले लगा लिया… अभी जब मैं खुर्शीद अनवर के अंतिम संस्कार से लौटा हूं तो सोच रहा हूं कि यह खुर्शीद अनवर नामक शख्स कितना अदभुत, कितना मौलिक, कितना संवेदनशील, कितना बहुमुखी प्रतिभा का धनी, कितना साहसी था कि उसने मरने से पहले कह दिया था कि उसका अंतिम संस्कार विद्युत शवदाह गृह में किया जाए, दफनाया न जाए. यह हिम्मत बड़े बड़ों में नहीं होती.

इस्लाम, हिंदू से लेकर हर तरह के धर्मों के कट्टरपंथियों से मोर्चा लेने वाला यह जांबाज, यह कवि, यह शायर, यह चिंतक, यह समाजसेवी रजत शर्मा के मीडिया ट्रायल से इतना अवसाद में चला गया कि उसने दुनिया को ही गुडबाय बोल दिया. बड़ा खतरनाक वक्त है. जो लड़की पिछले कई महीनों से जाने कहां-कहां रहती रही, जाने क्या-क्या कहती-करती रही, अचानक एक दिन आकर कहती है कि उसके साथ बलात्कार हुआ है.

अगर यह लड़की निर्भया आंदोलन की अगुवा रही है तो उसमें इतना तो साहस होना ही चाहिए था कि वह कथित रेप वाले दिन ही पुलिस थाने जाती और अपना मेडिकल कराती. मैंने इस प्रकरण में अपने स्तर पर जो छानबीन की थी बहुत पहले उससे यही समझ में आया कि पूरा प्रकरण गहन जांच की मांग करता है, सिर्फ बयान से घटना को सच मान लेना गुनाह होगा.

पर आजकल का जो दौर है, जो कानून हैं, जो माहौल है, उसमें तो सिर्फ लड़की के कह भर देने से, चाहे जब वो कह दे, पुलिस आपको पकड़कर अंदर कर देगी और मीडिया आपको बलात्कारी घोषित कर देगा. इस तरह के खतरनाक मीडिया ट्रायल की शुरुआत देख खुर्शीद अनवर अपनी प्रतिष्ठा व अपने अंजाम को लेकर सहम गए होंगे और जमाने के सामने खुद को रुसवा देखने की जगह जमाने को रुसवा करके चले जाने को तैयार हो गए… कामरेड खुर्शीद अनवर को लाल सलाम…


भड़ास4मीडिया के एडिटर यशवंत सिंह के फेसबुक वॉल से. इस स्टेटस पर आईं कुछ टिप्पणियां इस प्रकार हैं…

Surendra Grover यह हत्या है और इस हत्या. के खिलाफ पुरजोर आवाज़ बुलंद होनी चाहिए..

Alka Bhartiya कैसे सजाये समान जो मेरा यार भूल के गया, कैसे कह दें की मेरे यार मैं तुझे भूल के गया…
 
Neeraj Verma फेसबुक पर चला ट्रायल भी कम दुखी करने वाला नहीं था Yashwant जी… बिना किसी कानूनी कार्रवाई के लोगों ने फेसबुक पर ही आरोप भी तय कर दिये
 
S.p. Singh भारतीय दंड सहिंता की धरा 306 के तहत मामला बनता है अगर यह सही है तो ……
 
आशीष सागर दीक्षित बिना आरोप तय हुए इस तरह से मुहीम पर सख्त रोक लगे
   
Mohammad Khan Khursid da to chaly gaye aab aagy hamay un aropiyo ko jail ky unadar payouchana hay l
    
Ashutosh Sharma रजत शर्मा, मधु किश्वर और इण्डिया टीवी के ओनर के खिलाफ हत्या का मुकदमा चलना चाहिए। फेसबुक तो समझिये एक तरह से टाइम पास का अच्छा अड्डा बन गया है, इस पर मुद्दे का क ख ग भी न जानने वाले अपनी टांग घुसेड़ते रहते हैं और इनसे वह शख्स लड़ सकता था। लेकिन इस मीडिया के कीड़े रजत एंड कंपनी की बात कुछ और थी। ये तो षड्यंत्र था जो कामयाब हो गया।
     
Ratan Pathak अब यही होगा यशवंत भाई रजत शर्मा दोगलपन की सारी हद तोर दी इस कुत्ते को सजा होनी ही चाहिये

Hemant Tyagi jail bheja jaana chahiye
 
Aamir Pasha Rajat pe to case chalna chaiye.
 
Deependra Raja Pandey उस लड़की का उस रात के ठीक बाद वाली ही सुब्‍ह खुर्शीद की ही गाड़ी में अपने साथी के घर पहुंचना भी उसकी विश्‍वसनीयता और चरित्र पर सवाल खड़ा करता है। खुर्शीद के ड्राइवर साहब ने ही छोड़ा था वहां। मुआफ़ करें अगर किसी को भी मेरी बात बुरी लगे तो। मगर सच कड़वा ही होता है।
 
Danish Khan aaj ke samy me to kai log ese he jo khud apni bivi se bhi darr rahe he kahi wo hi unke khilaf rape ka kess na darj karade media itni jald bhayanak roop lelegi socha natha bhut hi sharm ki bat he
 
आशुतोष दीक्षित पता नहीं गुनाह किसका था / पता नहीं गुनाह कितना था / बस एक हवा चली और सब चल पड़े, उसके पीछे / भेंड चाल में / अबे बोलने तो देते / तुम्हारी बनावटी चीखों ने उनके अंदर की आवाज को मार दिया / वो कमजोर पड़ गए इन गुर्राहटों से, जो लग रहा था सदियों से भरे बैठे हों / खुद को मारना कोई विकल्प नहीं / पर विकल्पहीन भी तो नहीं किया जाना था / गुनाह था तो दम भर इंतजार करते / कहते हैं सौ गुनहगार बच जायें तो कोई रंज नहीं पर एक बेगुनाह की मौत किसके मत्थे जायेगी / खुर्शीद अनस ने खुदकुशी कर ली / इलाहाबाद की मिट्टी का बच्चा मिट्टी में मिल गया… गुनहगार हो तो उसका खुदा उसे वहां भी सौ कोड़े लगायेगा/ पर बेगुनाह हुआ तो कहना अब कौन उनके घर का दीया जलायेगा…
 
Sudhir Kumar Singh Suicide can not prove innocence. Damini's repist also committed suicide.
 
Prashant Gaurav u r right Sudhir ji
 
Zafar Imam लाल सलाम :.-(
 
Naveen Naveen जब रेप का आरोप राहुल गाँधी पर लगा था उनका मीडिया ट्रायल क्यों नहीं किया गया ..उनके मामले में कोर्ट के निर्णय आने तक मीडिया ने क्यों इंतजार किया समाचार देने में …खुर्सिद अनवर के साथ मीडिया ने ऐसा क्यों किया …कौन तय करेगा मीडिया की बुद्दिमता को ….कोई भी स्टिंग ऑपरेशन हो कोई भी क्लिप हो मीडिया क्यों एकतरफा निर्णय लेती है TRP के लिए ….
 
Naveen Naveen TRP ke chaakar me pata nahi kitno ki jaan lenge ye channel wale ….bina kisi saboot ke kuch bhi dikhana sure kar dete hain …aroop to RAPE ka rahul gandhi me bhi laga tha sabne man liya ki wo politcal stant hai ..or kisi news wale no chuu nahi ki thi ….
 
Mahendra Sharma Aur bhi bahut log hai jinka Media Trail ho raha hau
 
Arjun Singh जाके पैर न फटे बिवाई उ का जाने पीर पराई…. मीडिया ट्रायल और फेसबुक ट्रायल करने वाले जब खुद इसके शिकार होते हैं तो तेजपाल और अनवर जैसे हीरो पैदा हो जाते हैं….

Aranya Ranjan खुर्शीद दा ने किया या नहीं किया ये तो समय की गर्त और उनके साथ ही चला गया। लेकिन जो उनके साथ हुआ उस गुनाह का आरोप लगाने और सजा दिलवाने के लिये कौन है। मीडिया पर अंकुश बंदिश की बात नहीं पर कुछ सीमा रेखायें तय करने पर ज्यादा देर नहीं होनी चाहिए।
 
विक्रम पंडित lol … anwar ka to ka to pta nahi lekin tejpaal kab se hero ho gya bhai saab, ye kya bakloli kar di aapne.
 
Hafeez Kidwai Khurshid ke jane par ansu ni bahaenge na afsos karenge….ye unke liye beizzati hogi….kitni ghatiya sajish me wo istemal ho gai iska dukh hamesha rahega….salam khurshid
 
Swami Nandan यशवंत जी सही कहा आपने लेकिन हम दुःख प्रकट करने के अलावा क्या कर सकते हैं आज जरुरत है की सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनाये गए कानून पर मंथन करे क्योंकी इस कानून का बेजा इस्तेमाल करनेवालो की तो निकल पड़ी है । हाँ आप भी साबधान रहे क्योंकी आपने भी कईयों से पंगा ले लिया है ये कार्पोरेट घराना इस तरह के किसी साजिश में आपको फंसा सकते है
 
Dheeraj Tagra lal slam
 
Obaid Nasir Akele Rajat Sharma kyon Arnab Goswami,Ajit Anjum aur doosre Anchors bhi yehi karte hain koi kisi ka shikar koi kisi ka. Inhein main journalist nahi samajhta
 
Sunil Mishra i salute him …
 
Mukund Hari Shukla रजत शर्मा और इण्डिया टीवी के खिलाफ़ क्यूँ न हत्या और मान हानि का मुकदमा दायर किया जाए ?
 
Prakash Chandra very sad ..
 
Shamshad Elahee Shams मैं उस कार्यक्रम से जुड़े हर व्यक्ति और प्रोपराईटर की गिरफ्तारी की मांग करता हूँ साथ ही उन पर उपयुक्त धाराओ में मुकदमे दर्ज भी किये जाए ..
 
Aranya Ranjan मित्र यह महिलाओं को सुरक्छा देने वाले कानुनों की समीक्छा का नहीं बल्कि मीडिया की सीमायें और जिम्मेदारी तय करने की बात है। खुर्शीद भाई इतने कमजोर नहीं थे जो एक आरोप लगने पर इतना आत्मघाती कदम उठाते।
 
Bisht Kamal ZIA news v hai….India TV k saath saath..
 
Ram Dayal Rajpurohit भाई साब आप बहुत ही अच्छी बात कही और एकदम सच्ची बात कही , जो नया कानून आया है उसका गलत इस्तेमाल बहुत हो रहा है, और जो कुछ बचा है वो ये टीवी वाले trp के चक्कर मे लोगो की हत्या कर रहे है
 
Ram Dayal Rajpurohit aranya जी आदमी कमजोर होता नही जब इस तरह का इलज़ाम कोई सरीफ आदमी पर लगजाता , तो सीना चोड़ा करके बाहर सफाई देते नही घूमता वो शर्म के मारे मजबूर हो जाता और सब उसको अपराधी ही मानते है तो उस को ये कदम उठाना पड़ता है ,रही बात एक आरोप की तो क्या 5-10 आरोप के बाद ये कदम उठाना चाहिए था क्या ,
 
Arif Beg Aarifi ek kaamred is duniya se gaya to kya hua,ab unke jese hazar kamred paida honge inshaALLAH…Lekin itni asani se har manne walo me se nahi the khursheed sahab
 
Ram Dayal Rajpurohit यशवंत भाई को इस लेख के लिये बहुत बहुत बधाई


इसे भी पढ़ें…

रजत शर्मा की बेहूदगी पर उंगली उठा रहा हूं, मौत के लिये उसे जिम्मेदार मान रहा हूं : उज्जवल भट्टाचार्या

xxx

थोड़ी भी नैतिकता हो तो इंडिया टीवी से इस्तीफा दे दें नकवी जी

xxx

इंडिया टीवी के चरित्र हनन अभियान से दुखी होकर सोशल एक्टीविस्ट खुर्शीद अनवर ने आत्महत्या कर ली

xxx

खबर का असर, आरोपित व्यक्ति ने खुदकुशी कर ली, इंडिया टीवी में जश्न मनाइये नकवी जी, आपने कर दिखाया

xxx

मामला जब पुलिस में पहुंच ही गया तो फिर ये इंडिया टीवी वाले (रजत शर्मा) ने ये बेहयाई क्यूं की?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *