हार्ट की बीमारी दिखाकर जेल से अस्पताल गए और प्रेस कांफ्रेंस कर दी

बहराइच : सजायाफ्ता पूर्व विधायक दिलीप वर्मा जेल से अस्पताल इसलिए गए क्योंकि उन्होंने बताया था कि उन्हें हार्ट की बीमारी है। लेकिन वे अस्पताल जाने की जगह राजनीतिक गोंटी खेलने लगे। प्रेस कांफ्रेंस तक कर दिया। जेलर को नहीं पता कि उनके एक कैदी ने प्रेस कांफ्रेस कर दिया। सजायाफ्ता पूर्व विधायक दिलीप वर्मा बाकायदे सपा जिलाध्यक्ष के संग लाल टोपी पहन कर समाजवादी पार्टी के हिस्से हुए और सपा में फिर से अपनी आस्था जताई है।

जिला अस्पताल में बाकायदा पत्रकार वार्ता कर पूर्व विधायक सपा नेताओं के साथ नजर आए और लोकसभा चुनाव में सपा प्रत्याशियों को मजबूत बनाने का वायदा किया। तस्वीर इसकी तस्दीक कर रही है। जेलर महेंद्र पाल का कहना है कि हार्ट की बीमारी को दिखाने के लिए पूर्व विधायक को जिला अस्पताल भेजा गया था। जहां से उन्हें पीजीआई रेफर किया गया था। वे वहां से वापस आए और पत्रकार वार्ता की इसकी उन्हें जानकारी नहीं है।

शुक्रवार पूर्वाह्न जिला चिकित्सालय में प्राइवेट वार्ड नंबर तीन कक्ष की गैलरी में श्री वर्मा पत्रकारों से रूबरू हुए। सपा जिलाध्यक्ष रामतेज यादव, लोकसभा प्रत्याशी व पूर्व विधायक शब्बीर अहमद वाल्मीकि समेत कई अन्य सपा नेता उनके साथ थे। पूर्व विधायक श्री वर्मा ने कहा कि वे शुरू से ही समाजवादी रहे हैं। समाजवाद के लिए उन्होंने लंबी लड़ाई लड़ी है। उन्होंने सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव को प्रधानमंत्री बनाने के लिए पूरी ताकत लगाने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *