‘हिंदुस्‍तान’ ने दिखाई ताकत और आईजी साहब बन गए डीआईजी

अब ये धमकी का असर है या कि फिर सीएम से प्‍यार जताने का पर बिहार में अपने को सर्वाधिक लोकप्रिय और प्रसार वाला समाचार पत्र बताने वाले दैनिक हिंदुस्तान ने बड़ी गड़बड़ कर दी है। अखबार के पटना संस्करण ने रविवार के अपने प्रकाशित अंक में इतनी बड़ी भूल की है कि बिहार का पुलिस महकमा और पाठक असमंजस में हैं। हिन्दुस्तान ने अपने अखबार के प्रथम पृष्ठ पर बिहार में हुए 58 आईपीएस अधिकारियों के तबादले की खबर प्रकाशित की है।

खबर के साथ-साथ स्थानांतरित अधिकारियों में से कुछ की तस्वीर भी प्रकाशित की है पर स्थानांतरण किसी का और तस्वीर किसी और अधिकारी की लगा दी गई है। पुलिस मुख्यालय में कार्यरत डीआईजी स्तर के अधिकारी सुनील कुमार, जो जहानाबाद जेल ब्रेक कांड के समय जहानाबाद के आरक्षी अधीक्षक थे, को पटना सेंट्रल रेंज का नया डीआईजी बनाया गया पर हिन्दुस्तान ने उस सुनील कुमार की जगह पुलिस मुख्यालय में आईजी, बजट के पद पर कार्यरत सुनील कुमार की तस्वीर छाप कर एक आईजी को डीआईजी बना डाला है। हिन्दुस्तान में प्रथम पृष्ठ पर ही हुई इस भारी गलती की चर्चा रविवार को पुलिस महकमे के साथ-साथ सुधि पाठको के बीच भी देखी गई। बताया जा रहा है कि पटना के नए डीआईजी बनाए गए सुनील कुमार भी इस समाचार और अपनी जगह आईजी साहब की तस्वीर देखकर हैरत में हैं।

एक पत्रकार द्वारा भेजा गया पत्र.

 

 
 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *