हेमंत तिवारी के साथ मेरे होने की बात गलत : देवकीनंदन मिश्रा

यशवंत जी, ''झगड़े की शुरुआत हेमंत तिवारी और उनके लोगों ने की : दुर्गेश चौरसिया (सुनें टेप)'' स्टोरी को भड़ास4मीडिया पोर्टल पर लगाया है. इस स्टोरी में मेरा नाम भी हेमंत तिवारी के नाम के साथ जोड़ा गया है. बताया गया है कि मैं भी विवाद के समय हेमंत तिवारी के साथ था. यह पूरी तरह से गलत और बकवास है. इस बारे में बगैर मुझसे बात किये ही मेरा नाम प्रकाशित किया गया है. यह पूरी तरह से गलत है. अगर आपके पास झगड़े के दौरान हेमंत तिवारी के साथ मेरे रहने का कोई सबूत हो तो उसे सामने रखें. जो खुद ही आरोपी हो उससे बात करके इस तरह किसी की छवि को खराब करना ठीक बात नहीं है.

आरोपी की बात को किसी भी स्तर से पुष्ट करने की कोशिश नहीं की आपने. जो पुलिस मामले की जाँच कर रही होगी, उसे तो पता होगा उस समय कौन कौन हेमंत तिवारी के साथ था. उससे भी आपने जानकारी करने की कोशिश नहीं की. इस तरह के झगड़े में मेरा नाम अनायास उछालने से मेरी प्रतिष्ठा को ठेस पहुंची है. आपने इसके जरिये मेरी छवि को ख़राब करने की कोशिश की है. इससे मेरी मानहानि हुई है. मेरे इस पत्र को क़ानूनी नोटिस मानकर पूरे मामले में खेद प्रकाश करें नहीं तो मैं 50 लाख का मानहानि के दावे के साथ क्रिमिनल केस भी आपके खिलाफ दर्ज करूँगा.

देवकीनंदन मिश्रा

पत्रकार

राष्ट्रीय सहारा

लखनऊ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *