जागरण में बंपर छंटनी (14) : बरेली में एक तरफ छंटनी-तबादला तो दूसरी तरफ भर्ती

दैनिक जागरण में चल रहे छंटनी के दौर में अपने लोगों को सेट भी किया जा रहा है. बरेली से खबर है कि प्रबंधन एक तरफ से सरप्‍लस स्‍टाफ बताकर तमाम लोगों की छंटनी कर रहा है तो दूसरी तरफ नए सिरे से भर्तियां भी की जा रही हैं. प्रोडक्‍शन विभाग में कार्यरत चार कम्‍प्‍यूटर ऑपरेटरों का तबादला कर दिया गया था, जिसमें तीन लाल प्रभाकर, विजय सिंह यादव व छेदा लाल को मुरादाबाद तथा महिपाल यादव को हल्‍द्वानी भेजा गया था. 

खबर है कि प्रबंधन ने छंटनी के बहाने महिपाल से इस्‍तीफा ले लिया है. पर हैरतनाक बात यह है कि एक तरफ से सरप्‍लस कर्मचारी बताकर चार आपरेटरों का तबादला किया गया तो दूसरी तरफ तीन नए लोगों की भर्ती की गई है. जिन लोगों को रखा गया है उनके नाम हैं – क्षीतिज, संतोष तथा हरीश कुमार. ये तीनों टीडीपी ऑपरेटर हैं. छंटनी के दौरा में ऐसा लग रहा है कि दैनिक जारगण समूह में भांग घुला हुआ है. हर तरफ बदहवासी का आलम है. जो निकाले जा रहे हैं वो भी बदहवास हैं, जो निकाले जाने लायक हैं और बचाए लिए गए हैं वो भी बदहवास हैं.

उल्‍लेखनीय है कि प्रबंधन ने इन तबादलों के अलावा आधा दर्जन एडिटोरियल के साथियों को भी बाहर किए जाने का फरमान सुनाया है. इन लोगों से इस्‍तीफे मांगे गए थे, परन्‍तु सभी ने इस्‍तीफा देने से इनकार कर दिया, जिसके बाद इन लोगों के आफिस के अंदर घुसने पर पाबंदी लगा दी गई है. बताया जा रहा है कि ये लोग एक जून के बाद जागरण प्रबंधन के खिलाफ लेबर कोर्ट और कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की तैयारी कर रहे हैं.   


Related News- jagran chhatni

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *