जागरण में बंपर छंटनी (43) : अलीगढ़ में प्रबंधन ने दो लोगों को वापस बुलाया

दैनिक जागरण, अलीगढ़ से खबर है कि प्रबंधन ने अपने दो सहयोगियों को वापस बुला लिया है. हालांकि सूत्रों का कहना है कि जागरण इसे अपनी गलती मानकर इन लोगों को वापस नहीं बुलाया है बल्कि नोटिस भेजे जाने के बाद इन लोगों को वापस बुलाया गया है. वैसे कहा यह भी जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों में हुए घटनाक्रम के बाद जागरण प्रबंधन के होश उड़े हुए हैं तथा वो छंटनी के शिकार बनाए गए कुछेक लोगों को वापस लेकर दूसरे विवादों से बचना चाहता है.

गौरतलब है कि अभी दो दिन के भीतर ही जागरण से छंटनी के शिकार हुए अमरीश त्‍यागी का निधन हो गया. वे बुरी तरह अवसाद में चले गए थे. पत्रकार का एक बड़ा तबका तथा आमलोग अमरीश त्‍यागी की मौत का जिम्‍मेदार जागरण को ही मान रहे हैं. वहीं रायबरेली में अखबार ने दो महीने पुरानी खबर प्रकाशित कर दी थी. जिसके बाद इस अखबार की पूरे रायबरेली में जमकर छीछालेदर हुई. इस तरह की गड़बडि़यों के बाद जागरण को अब अपने पुराने लोग याद आने लगे हैं.

बताया जा रहा है कि अलीगढ़ में छंटनी के शिकार बनाए गए पत्रकारों ने प्रबंधन को कानूनी नोटिस भेजा था. कहीं कोई और गड़बड़ी ना हो जाए तथा घबराहट में जागरण ने दो लोगों को वापस बुला लिया है. अलीगढ़ में जागरण प्रबंधन ने चार लोगों से इस्‍तीफा मांगा था. बाकी दो लोग ब्‍यूरो में तैनात थे. प्रबंधन ने जिन लोगों को वापस बुलाया है उसमें वरिष्‍ठ पत्रकार सुधीर भारद्वाज और राजीव कुमार शर्मा शामिल हैं. सुधीर भारद्वाज पिछले ढाई दशक से जागरण के साथ जुड़े हुए थे.


Related News-  ]agran chhatni

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *