सुदीप्‍तो सेन से मनोरंजना ने 25 करोड़ और मतंग ने 28 करोड़ रुपये वसूले!

चिट फंड घोटाले में फंसे शारदा ग्रुप के एमडी सुदीप्तो सेन ने सीबीआई को लिखी चिट्ठी में वित्त मंत्री पी चिदंबरम की पत्नी नलिनी चिदंबरम का भी नाम तो लिया ही, मनोरंजना सिंह और मतंग सिंह का नाम भी लिखा है, जिन पर उसने खुद को बरबाद करने का आरोप लगाया है। सुदीप्‍तों ने अपने पत्र में लिखा है कि मनोरंजना सिंह ने अपनी कंपनी पॉजीटिव ग्रुप्स का कुछ हिस्‍सा बेचने के लिए हमसे संपर्क किया और अपनी वकील नलिनी चिदंबरम से मिलाने चेन्नई ले गईं।

नलिनी चिदंबरम ने हमसे कहा कि हम मनोरंजना सिंह को नॉर्थ ईस्ट में एक चैनल लगाने में मदद करें। नलिनी ने ये भी कहा इसके लिए मनोरंजना की कंपनी को 42 करोड़ दिए जाएं। नलिनी चिदंबरम ने खुद कॉन्ट्रैक्ट तैयार कराया और ये भी कहा कि किसी भी विवाद की हालत में वो एकलौती मध्यस्थ होंगी। साथ ही नलिनी ने करीब डेढ़ साल तक अपनी सेवाएं देने के लिए 1 करोड़ की रकम तय की। ज्यादातर बार जब वो मनोरंजना के साथ कोलकाता आईं तो उनके हवाई जहाज और होटल के बिल मैंने दिए जो काफी बड़ी रकम है।

सुदीप्‍तो ने अपने पत्र में लिखा है कि मनोरंजना ने ये भी कहा था कि नलिनी वित्त मंत्री की पत्नी हैं और अगर उन्होंने तुम्हारी मदद की तो शारदा ग्रुप को बहुत फायदा होगा। हालांकि नलिनी चिदंबरम ने मुझे ऐसा भरोसा कभी नहीं दिया। लेकिन उन्होंने मेरी आर्थिक हालत से बढ़कर 42 करोड़ खर्च करने का दबाव बनाया। जहां तक मुझे याद है मैंने अब तक मनोरंजना सिंह को जीएनएन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड व एनके गुप्ता को उनके पिता के नाम पर 25 करोड़ रुपए दिए हैं।

पत्र में एमथ्रीएम मीडिया के मालिक और मनोरंजना सिंह के पूर्व पति मतंग सिंह पर भी कई आरोप लगाए गए हैं। सुदीप्‍तो ने लिखा है कि एनई बांग्‍ला में पचास प्रतिशत शेयर के बदले मतंग सिंह ने उससे 28 करोड़ रुपये अपने कई एकाउंटों में जमा करवाए। पर बाद में राजेश बजाज के चलते यह डील कैंसिल हो गई। ये पैसे भी फंस गए। नीचे देखें सुदीप्‍तो के पत्र के अंश….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *