टीओआई ने 22 दिन बाद प्रकाशित की अपने पूर्व संपादक के निधन की खबर

पत्रकारिता संस्‍थानों में बनते-बिगड़ते-बदलते दौर में अब अपने पुराने वरिष्‍ठ सहयोगियों के बारे में खबर रखने की जरूरत नहीं रह गई है. कुछ ऐसा ही वाकया टाइम्‍स ऑफ इंडिया के वरिष्‍ठ पत्रकार रहे अल्‍फ्रेड डी क्रूज के साथ हुआ है. टाइम्‍स ऑफ इंडिया ने इस अखबार के संपादक रहे क्रूज के निधन की खबर 22 दिन बाद प्रकाशित की है. भारत के पहले एडिटोरियल इम्‍पलाई बनने वाले डी क्रूज का निधन बीते 1 जून को मुंबई में हो गया था. वे अपने पीछे एक पुत्र और तीन पुत्रियों का भरापूरा परिवार छोड़ गए हैं.

डी क्रूज 91 साल के थे तथा कुछ दिन बीमार चल रहे थे. वे 1982 में टाइम्‍स ऑफ इंडिया के संपादक पद से रिटायर हुए थे. इसके बाद भी वे गल्‍फ के कई अखबारों में सक्रिय रहे. डी क्रूज के निधन की पहली खबर 7 जून को मुंबई से प्रकाशित आफ्टरनून डिस्‍पैच एंड कूरियर में प्रकाशित हुई. इसके बाद 14 जून को यह खबर ओमान आब्‍जर्बर ने प्रकाशित किया. इसके बाद टाइम्‍स ऑफ इंडिया ने इस खबर को 22 दिन बाद 22 जून को प्रकाशित किया. नीचे टीओआई द्वारा प्रकाशित की गई डी क्रूज के निधन की खबर.


Veteran journalist Alfred D'Cruz passes away

MUMBAI : Veteran journalist, historian and author Alfred D'Cruz passed away in Bandra at the age of 91 after a brief illness. He is believed to be the first Indian to have been employed by the editorial department of 'The Times of India' way back in 1947.

D'Cruz was handpicked for the job by the then British Editor, Sir Francis Low. "He often recalled working until 4.00 am, struggling with the hot metal press to prepare the blocks for photographs for computers had yet to arrive on the scene," his son Sunil said from Muscat.

"He had an illustrious career and worked with stalwarts like R K Laxman, Mario Miranda, Khushwant Singh, Behram Contractor and Girilal Jain." Afie, as he liked to be called, was the only journalist to write the 'Round & About' column in the 'Evening News of India' when 'Busybee' was on leave.

In 1982, D'Cruz retired as editor of TOI's 'Whos Who' yearbook but remained active for years afterward. At the age of 69, he joined Kuwait Times and worked there up until the Gulf War in 1991-2. The end came on June 1. Alfred D'Cruz is survived by his son Sunil and three daughters, one of whom Susheela Soares, was also employed at TOI.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *