इटावा के 4456 गेहूं खरीद केंद्रों पर यादव दलालों का कब्जा!

दिनेश शाक्य इटावा के पत्रकार हैं. इन दिनों सहारा समय को अपनी सेवाएं दे रहे हैं. इटावा के पत्रकारों के बारे में कहा जाता है कि ये लोग मुलायम और उनके कुनबे के करीबी होते हैं, मतलब जान-पहचान वाले होते हैं क्योंकि इटावा व सैफई में होने वाले मुलायम व उनके कुनबे के आयोजनों में इन पत्रकारों का अक्सर जाना होता है और इस प्रक्रिया में ये लोग मुलायम यादव खानदान के हर शख्स से और हर शख्स इनसे परिचित हो जाता है. दिनेश शाक्य ने फेसबुक पर लिखा है कि जब अखिलेश सीएम बनने के बाद इटावा के अपने सैफई गांव पहली बार आए तो क्या माहौल था. उनके इसी स्टेटस अपडेट पर पंकज सिंह ने एक कमेंट किया है जिससे इटावा की एक नई हकीकत, नई तस्वीर सबके सामने आती है. ये पंकज सिंह होंडा सिएल पावर प्रोडक्ट्स लिमिटेड में सीनियर एक्जीक्यूटिव सेल्स हैं. लखनऊ में रहते हैं. इन्होंने बताया है कि इटावा के गेहूं खरीद केंद्रों पर यादव दलालों का कब्जा है और ये लोग गैर यादवों से पैसे उगाह रहे हैं. पढ़िये यह बहस…

Dinesh Shakya : मुख्यमंत्री बनने के बाद अखिलेश यादव अभी अपने गांव सैफई नही आये थे। सैफई के लोगो की आज उस समय उनको देखने की मुराद आखिरकार पूरी हो ही गई जब अखिलेश यादव अपने गांव सैफई के दौरे पर आये। कई लंबित चल रही विकास योजनाओ के निरीक्षण करने आये अखिलेश खुले दिल से अपने गांव के लोगो से भी मिले। इसी बीच कवरेज के दौरान मुझसे भी कुछ बात हुई । सैफई हवाई पटटी पर सरकारी वायुयान के जरिये आये अखिलेश यादव ने सैफई मे जहा एक ओर बारीकी से व्यापक निरीक्षण किया वही दूसरी ओर जरूरतमंदो से मुलाकात करके लोगो को खुश भी कर दिया। पूरे दौरे के दौरान कई ऐसे मौके भी आये जब हाथो मे प्रार्थनापत्र लिये लोगो को अखिलेश ने गाडी से बैठे हुये देखा था तो बाहर निकल करके उनके ना केवल प्रार्थना पत्र लिये बल्कि उसको अहमियत देते हुये साथ अधिकारियो को यह भी बता दिया कि यह हमारे साथ ऐसे समय से जुडे हुये है इसलिये इनके लिये कुछ ना कुछ तो करना ही है।

        Praveen Shukla ‎Dinesh ji, bahut badhiya …
 
        Patanjali Dubey good effort shakya ji
 
        Pradeep Awasthi aapka jalwa aise hi kayam rahe
   
        Som Nath meri bhi mulakat ho gayi.
    
        Ramvir Yadav bhai apki bat ko cm ne gambhirta se liya hoga!
     
        Pankaj Singh Lekin kisi ki himmat nahi padi hogi ye bataney ki ki Etawah ke 4456 gehu khareed kendro per yadav dalalo ka kabja hai aur wo log gareeb kishano ya yadavo ke alawa doosari jatiyo ke kishano se 1000 rs kuntal me khareed kar sarkari kendra per 1285 me bench kar turant 285 rs kama rahe hai ? Din dahadey etawah me mere janney waley ke sath 1.5lacs ki loot hui Etawah ki police ne report nahi likhi kyo ki sab haramjadey lootney per lagey hai ? SAMAJWADI YADAV PARTY JINDAWAD JINDAWAD jiski dum ho ab ukhad ley
       
        Nadeem Siddqie kuch karwa lo dear. maja aa jayega ..

दिनेश शाक्य के फेसबुक वॉल से साभार.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *