चिन्मयानंद का साथ छोड़ अपने पत्रकार पति के पास लौटीं चिदर्पिता

एक नाटकीय घटनाक्रम के तहत बहुचर्चित साध्वी चिदर्पिता गुरुवार शाम सामान समेत अपने बदायूं निवासी पत्रकार पति बीपी गौतम के पास लौट आईं। करीब डेढ़ महीने पहले वो गौतम का दामन छोड़ हरिद्वार के परमार्थ आश्रम वापस चली गई थीं। इस आश्रम के अध्यक्ष पूर्व गृहमंत्री स्वामी चिन्मयानंद हैं, जिनपर वो पहले अपहरण और बलात्कार का मुकदमा दर्ज करा चुकी थीं। देर शाम एसपी मंजिल सैनी के निर्देश पर पुलिस ने साध्वी और गौतम से पूछताछ की।

शाहजहांपुर के मुमुक्ष आश्रम के शिक्षण संस्थान की प्रबंधक रहीं साध्वी का नौ अगस्त की रात पति बीपी गौतम से विवाद इतना बढ़ गया था कि उनके दांपत्य जीवन में दरार आ गई थी। साध्वी ने गौतम के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया और हरिद्वार के परमार्थ आश्रम में शरण ली। इस बीच गौतम ने एसपी समेत आईजी को शिकायती पत्र देकर चिदर्पिता के साथ अनहोनी की आशंका भी जताई थी।

 
उधर हरिद्वार से खबर है कि साध्वी चिदर्पिता एक बार फिर अपने गुरु परमार्थ आश्रम के परमाध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के आश्रम से भाग निकलीं। करीब सवा महीने पहले अपने पति की प्रताड़ना से तंग होकर वह आश्रम में वापस आ गई थीं। इस दौरान वह ऋषिकेश स्थित परमार्थ निकेतन में भी रहीं। वहा उनका शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होने के लिए इलाज चला था। चंद रोज पहले उन्हें ऋषिकेश में घूमते भी देखा गया। दो दिन पहले वह हरिद्वार के परमार्थ आश्रम पहुंची थीं। गुरुवार अलसुबह सफेद रंग की ज़ायलो गाड़ी (यूपी 24-डी-7576) पर सवार होकर चली गई। वापस न लौटने पर आश्रम प्रबंधन ने वहां सप्तऋषि थाने में इसकी सूचना दी थी। 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *