क्वालिस की टक्कर से इंजीनियरिंग छात्र घायल, मालिक के दबाव में पुलिस नहीं कर रही कार्यवाही

भुवनेश्वर में इंजीनियरिंग के फाइनल इयर के छात्र नीरज कुमार को होली के दिन एक गाड़ी ने टक्कर मार दी। टक्कर इतनी तेज़ थी कि नीरज की जांघ की हड्डी ज्वाइंट से अलग हो गई और उसमें पांच फ्रैक्चर हो गए। टक्कर मारने वाली गाड़ी 'क्वालिस(नं. OR 02 T 9000)' उड़ीसा के चर्चित गुप्ता केबल्स के मालिक की है।

अस्पताल में घायल नीरज
अस्पताल में घायल नीरज
घटना की सुचना तुरन्त शहीदनगर पुलिस स्टेशन को दी गई। लेकिन पुलिस एफआईआर दर्ज़ करने में आनाकानी करती रही क्योंकी गाड़ी का मालिक गुप्ता एक ऊंची पहुंच वाला प्रभावशाली व्यक्ति है। स्थानीय इंजीनियरिंग छात्रों के दवाब के चलते पुलिस को आरेपी ड्राइवर के खिलाफ एफआईआर दर्ज़ करनी पड़ी लेकिन अगले ही दिन गुप्ता के दवाब के चलते पुलिस ने ड्राइवर औऱ गाड़ी दोनो को छोड़ दिया। गुप्ता केबल्स के मालिक के प्रभाव के चलते पुलिस पीड़ित पक्ष की सुन ही नहीं रही है। एसएचओ डीके मिश्रा ने पीड़ित के परिवार वालों हड़काते हुए, पांच हज़ार रुपए ले कर मामला खत्म करने को कहा।

नीरज की जांघ की हड्डी का एक्स-रे
नीरज की जांघ की हड्डी का एक्स-रे
नीरज का इलाज भुवनेश्र के कलिंग हॉस्पीटल में चल रहा है। जांघ के मेजर ऑपरेशन के चलते इलाज पर अब तक डेढ़ लाख रुपया खर्च हो चुका है। हड्डी अपने जगह पर आने में साल भर का समय लग सकता है। यदि हड्डी नॉर्मल स्थिति में नहीं आई तो दोबारा ऑपरेशन करने की जरूरत पड़ सकती है। नीरज के भाई प्रेम कुमार ने बताया कि इस एक्सीडेंट के कारण नीरज का एक साल बर्बाद हो गया इसका असर उसके कैरियर पर पड़ सकता है। उन्होने कहा कि उनके परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। वे गुप्ता केबल्स के मालिक से सिर्फ मेडिकल का खर्चा और हर्जाना चाहते हैं, जितना पैसा उसने पुलिस को खिलाने में खर्च किया उतने में हमारे भाई के इलाज में मदद मिल सकती थी।

प्रेम कुमार ने अपील की है कि पुलिस आरोपी ड्राइवर को गिरफ्तार कर कानूनी कार्यवाही करे और गुप्ता केबल्स के मालिक से उन्हे भाई के इलाज का खर्चा औऱ हर्जाना दिलाया जाए। प्रेम कुमार का संपर्क पता हैः M.Phill. Mass Communication, Center for Communication & Media Studies,  M.G.A.H.V. (A Central University) Wardha – Maharashtra 442001 (INDIA) Mob- 09372111752, 9527256922 Email: prembmc@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *