Fraud Nirmal Baba (48) : निर्मल बाबा के अरबों के साम्राज्य की इनकम टैक्स, ईडी समेत कई एजेंसियां ने शुरू की जांच

अब जी न्यूज भी मैदान में आ चुका है. इस चैनल ने भी निर्मल बाबा के फ्राड पर खबरें दिखानी शुरू कर दी है. चुप्पी साधे हैं एनडीटीवी, न्यूज24, इंडिया टीवी समेत कई चैनल. इन चैनलों पर बाबा का समागम खूब दिखता है. बिना किसी डिस्क्लेमर और बिना किसी रोकटोक के. और, इन न्यूज चैनलों को पैसे के साथ साथ इससे खूब टीआरपी भी मिल रही है, सो ये दम साधे हुए हैं. चुप्पी मारे हुए हैं. न्यू मीडिया के मंचों के बाद मेनस्ट्रीम चैनल्स-अखबार में न्यूज एक्सप्रेस, प्रभात खबर, स्टार न्यूज, आजतक, साधना न्यूज, जी न्यूज, चैनल वन ने निर्मल बाबा के कारनामों का पोल खोलना शुरू किया तो एक के बाद एक कहानियां सामने आ रही हैं. आज स्टार न्यूज ने ज्योतिषाचार्य अजय गौतम का इंटरव्यू दिखाया जो निर्मल बाबा के एक जमाने में पार्टनर रहे हैं.

इन अजय गौतम ने बताया कि ग्रेटर कैलाश में अपने छोटे से आफिस में निर्मल प्रापर्टी डीलिंग के साथ साथ बाबागिरी करना शुरू किया था. पूजा पाठ आदि के लिए वह बाहर से बाबा संतों को बुलाता था. उसने खुद भी मंत्र आदि सीखने की कोशिश की लेकिन संस्कृत न आने और पंजाबी पुट की भाषा होने के कारण इसमें सफल न हो सका. किसी से उसने पांच लाख रुपये लिए पूजा के लिए और पुजारियों को बीस हजार देकर निपटा दिया, उसी कारण झगड़ा हुआ और अजय गौतम आदि उससे अलग हो गए. इस इंटरव्यू से पता चलता है कि निर्मलजीत सिंह निरुला ने किस तरह एक एक पायदान चलकर और चीजों को साधकर बाबागिरी की ओर अग्रसर हुआ. बाद में न्यूज चैनलों के सहारे यह आदमी देखते ही देखते गोलगप्पे आदि खाने की सलाहें देकर अरबों का आसामी बन गया. जी न्यूज ने आज दिखाया कि निर्मल बाबा की अरबों की कमाई पर इनकम टैक्स और ईडी समेत कई एजेंसियों की निगाह है. सबने गुपचुप बाबा के ट्रांजैक्शन की जांच शुरू कर दी है.

दस लाख से ज्यादा की रकम इकट्ठे जहां जहां से आई है, उन स्रोतों की जांच शुरू कर दी गई है. मनी लांड्रिंग आदि की भी जांच हो रही है कि कहीं पैसा विदेश तो नहीं गया और गया तो किस रूप में किसके पास. आजतक ने बाबा का इंटरव्यू प्रसारित करने के बाद इस मसले पर बहस शुरू कर दी है. एंकर अभिसार शर्मा ने कई गेस्ट से कई तरह के सवाल पूछे और सबने बाबा को फ्राड कहा और ऐेसे बाबाओं से लोगों को बचने की सलाह दी. आजतक अब इस मुद्दे पर पूरे फार्म में है और इसके लिए आजतक टीम को बधाई दी जानी चाहिए, देर आए दुरुस्त आए. कायदे से अब सभी न्यूज चैनलों को बाबा के समागम का प्रसारण बंद कर देना चाहिए क्योंकि ब्रेकिंग न्यूज के निर्मल दरबार के प्रसारण से लोगों को लगता है कि यह भी एक सच्चा प्रोग्राम है, इसी कारण निर्दोष-भोलेभाले धर्मभीरू लोग निर्मल बाबा के चक्कर में आ गए.

ज़ी न्‍यूज की तरफ से दिखाई गई खबर का सार ये है, जो जी न्यूज की वेबसाइट पर प्रकाशित है…

करोड़ों में कमाई, मुश्किल में निर्मल बाबा

नई दिल्‍ली: आध्‍यात्मिक गुरु निर्मल बाबा मुश्किल में घिर गए हैं और अब उनकी कमाई पर आयकर विभाग की नजर है। एक हिन्‍दी दैनिक ‘प्रभात खबर’ की रिपोर्ट में शुक्रवार को दावा किया गया है कि निर्मल बाबा के खाते में तीन महीने के अंदर दो बैंक खातों में 109 करोड़ रुपये जमा हुए हैं। जिस पर आयकर महकमा सक्रिय हो गया है और बाबा से अब करोड़ों की कमाई का हिसाब पूछा जा सकता है।

सूत्रों के अनुसार, बाबा की आमदनी और रिटर्न का मिलान किया जाएगा। इसके अलावा उनकी कमाई और रिटर्न की भी जांच होगी। वहीं, उनके बैंक खातों पर भी आईटी की नजर है और उसकी सघन जांच की जाएगी। यह सारा वाकया तब जोड़ पकड़ा जब अखबार ने दावा किया कि बाबा के खाते में तीन महीने में एक बैंक खाते में 109 करोड़ रुपये जमा हुए।

जानकारी के अनुसार, आयकर विभाग अब इस बात का पता लगाएगा कि क्‍या उनके पास विदेश से पैसा आया। इसके लिए आयकर विभाग उनके खातों का ब्‍यौरा जुटा रहा है। रियल इस्‍टेट में किए गए निवेश की भी जांच होगी। अखबार का दावा है कि निर्मल बाबा का खाता अपने और निर्मल दरबार के नाम पर है। बाबा के खाते में एक दिन चार घंटे में 15 करोड़ रुपये जमा हुए। अब इस बात की संभावना बनी है कि प्रवर्तन निदेशालय इस मामले में जांच की कार्रवाई कर सकता है।

बाबा को विदेशों से मिले फंडिंग पर भी पूछताछ हो सकती है। यदि उन्‍होंने पैसों को विदेशी खातों में हस्‍तांतरित किया है तो इस बात की भी जांच की जाएगी। रिपोर्ट के अनुसार, आश्‍चर्यजनक तथ्‍य यह है कि निर्मल बाबा उनके पास किसी समस्‍या के निराकरण के लिए पहुंचने वालों लोगों से कहते हैं कि वे अपनी तनख्‍वाह का दस फीसदी भेंट करें। इन खुलासों के बाद बाबा के बैंक खातों में देश भर से हुई लेनदेन निगरानी के दायरे में आ गई है।

बाबा के समागम में पहुंचने वाले लोगों से 2000 रुपये प्रति व्‍यक्ति शुल्‍क लिया जाता है। इन पैसों को निर्मल बाबा के तीन बैंक खातों जमा किया जाता है। एक आकलन के मुताबिक निर्मल दरबार का सालाना टर्नओवर करीब 84 करोड़ रुपये होता है। जबकि अखबार ने दावा किया कि निर्मल बाबा ने एक निजी बैंक में अपने तीन में से एक बैंक खाते से 53 करोड़ रुपये स्‍थानांतरित किया। रिपोर्ट के अनुसार, एक अग्रणी बैंक में बाबा का 25 करोड़ रुपया फिक्‍स डिपॉजिट के तौर पर जमा है।

उधर, निर्मल बाबा ने इन आरोपों पर कहा कि उन्‍होंने पूरा आयकर चुकाया है। मेरे दावे विज्ञान की कसौटी पर खरे हैं। मेरा 235 करोड़ रुपये का सालाना टर्नओवर है। पूरी कमाई पर इनकम टैक्‍स चुकाया है। उनहोंने कहा कि कभी चमत्‍कार का दावा नहीं किया। वे अंधविश्‍वास नहीं फैला रहे बल्कि अंधविश्‍वास को तोड़ रहे हैं। न ही किसी को टोना-टोटका बताते हैं।

-यशवंत


सीरिज की अन्य खबरें, आलेख व खुलासे पढ़ने के लिए क्लिक करें-

Fraud Nirmal Baba

बाबा की ''महिमा'' जानने के लिए यहां जाएं-

समस्या-हल : एक

समस्या-हल : दो

समस्या-हल : तीन

समस्या-हल : चार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *