Fraud Nirmal Baba (62) : निर्मल बाबा पर कानूनी शिकंजा

: कौन हैं निर्मल बाबा? (भाग सात) : मुजफ्फरपुर से मेरठ तक : मुजफ्फरपुर/मेरठ : निर्मल जीत सिंह नरूला उर्फ निर्मल बाबा पर अब कानूनी शिकंजा कसता जा रहा है. मुजफ्फरपुर सहित मेरठ और भोपाल में बाबा के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी गयी है. मुजफ्फरपुर के सदर थाना क्षेत्र स्थित लहलादपुर पताही निवासी वकील सुधीर ओझा ने बाबा पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने और धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है. उन्होंने इस संबंध में सीजेएम कोर्ट में आपराधिक मामला (धारा 420, 406, 295) दर्ज कराया है.

उन्होंने आरोप लगाया है कि बाबा ने अपने भक्तों से धर्म के नाम पर उनकी कमाई का 10 प्रतिशत हिस्सा प्रलोभन देकर लेने का काम किया. इससे बाबा ने लगभग 235 करोड़ रुपये अपने दो खातों में अजिर्त कर लिये. उन्होंने धर्म के नाम पर करोड़ों लोगों के साथ विश्वासघात किया है. कोर्ट ने शिकायत पर नोटिस लिया है. प्रथम श्रेणी के न्यायिक दंडाधिकारी रंजुला भारती को जांच का आदेश दिया है. मामले की अगली सुनवाई दो मई को होगी.

मीठा खीर खाने और खिलाने की सलाह दी थी : मेरठ के लेक्चरर हरीशवीर सिंह ने निर्मल बाबा के खिलाफ कोर्ट में शिकायत दर्ज करायी है. उन्होंने आरोप लगाया है कि बाबा ने मुलाकात के लिए उनसे 11 हजार रुपये लिये थे. उन्हें शुगर की बीमारी है. बाबा ने सलाह थी कि एक माह तक मीठा खीर खाने और दूसरों को खिलाने से बीमारी से मुक्ति मिल जायेगी. पर ऐसा करने पर उनकी हालत और बिगड़ गयी. किसी तरह जान बच पायी. हरीशवीर सिंह ने बताया कि डॉक्टरी इलाज के बाद जब वह ठीक होने लगे, तो निर्मल बाबा ने उन्हें फोन किया. समागम में आने और उनके उपाय के बाद ठीक होने की बात रखने को कहा. हरीश ने कहा कि उन्होंने इससे इनकार कर दिया. हरीश की याचिका पर एक मई को सुनवाई होगी.

काला पर्स रखने की सलाह दी थी : भोपाल की पुलिस एक शिकायत के बाद निर्मल बाबा को पूछताछ के लिए नोटिस जारी करेगी. हबीबगंज निवासी राजेश सेन ने बाबा के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी है. उन्होंने अपनी शिकायत में कहा है कि एक समागम में बाबा ने नौकरी पाने के लिए काले रंग की पर्स रखने की सलाह दी थी. उन्होंने ऐसा ही किया. पर कोई फायदा नहीं हुआ. पुलिस अधिकारी राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि हम मामले की जांच कर रहे हैं. इसके बाद निर्मल बाबा से पूछताछ करेंगे.

मुजफ्फरपुर
– वकील ने सीजेएम कोर्ट में दर्ज की शिकायत
– जांच का आदेश अगली सुनवाई दो को

मेरठ
– लेक्चरर हरीशवीर सिंह ने दर्ज करायी शिकायत
– खीर खाने की सलाह देकर जान जोखिम में डालने का आरोप

भोपाल
– राजेश सेन ने पुलिस में दर्ज करायी शिकायत
– जांच के बाद पुलिस पूछताछ के लिए बाबा को नोटिस भेजेगी

करोड़ों से लाखों में आये बाबा

रांची : निर्मल बाबा के निर्मल दरबार के नाम से खुले खाते में (नंबर 1546002100023105) में भक्तों की ओर से जमा की जा रही राशि में लगातार गिरावट आ रही है. गिरावट का यह सिलसिला 11 अप्रैल से शुरू हुआ है. इसी दिन प्रभात खबर और उसके बाद टीवी चैनलों में निर्मल बाबा के बारे में खबरें आनी शुरू हुई थी. निर्मल दरबार के नाम से खुले उनके बैंक खाते में सोमवार को मात्र 21.5 लाख रुपये जमा किये गये. जबकि 11 अप्रैल से पहले उनके खाते में प्रतिदिन औसतन एक से सवा करोड़ के बीच रुपये जमा किये जाते थे.

सात अप्रैल को 2.36 करोड़ रुपये जमा कराये गये थे. इसी दिन निर्मल बाबा ने 7.5 करोड़ रुपये दूसरे खाते में ट्रांसफर किये. आठ अप्रैल को रविवार था. बैंक बंद थे. नौ अप्रैल को भक्तों ने निर्मल दरबार के खाते में चार करोड़ रुपये जमा कराये थे. इसी दिन बाबा ने इस खाते से 3.12 करोड़ रुपये ट्रांसफर किये थे. 12 अप्रैल से बाबा के खाते में पैसे आने कम हो गये. 12 को 84 लाख, 13 को 43 लाख और 16 अप्रैल को 21.5 लाख रुपये निर्मल दरबार के खाते में जमा किये गये. 16 अप्रैल को पैसा जमा कराने में अप्रत्याशित कमी आयी.

– सोमवार को 21.5 लाख ही जमा कराये गये
– पहले रोज एक से सवा करोड़ रुपये जमा करते थे लोग

प्रभात खबर में प्रकाशित विजय पाठक का लेख. इस खबर पर आप अपनी प्रतिक्रिया vijay.pathak@prabhatkhabar.in पर भेज सकते हैं.


प्रभात खबर में प्रकाशित खबरों को पढ़ने के लिए नीचे क्लिक करें –

Fraud Nirmal Baba (28) : प्रभात खबर ने खोली पोल – कौन हैं निर्मल बाबा?

Fraud Nirmal Baba (33) : प्रभात खबर ने खोली पोल – कौन हैं निर्मल बाबा? (भाग दो)

Fraud Nirmal Baba (42) : एक एकाउंट में 109 करोड़

Fraud Nirmal Baba (49) : बाबा के निजी खाते में भी डाले गये 123 करोड़

Fraud Nirmal Baba (53) : भक्तों के पैसे से खरीदा 30 करोड़ का होटल

सीरिज की अन्य खबरें, आलेख व खुलासे पढ़ने के लिए क्लिक करें  Fraud Nirmal Baba

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *