Fraud Nirmal Baba (71) : किरपा आनी बंद, रांची में शून्‍य पर पहुंचे बाबा

: कौन हैं निर्मल बाबा? (भाग नौ) : रांची : भले ही दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में निर्मल बाबा के समागम में भीड़ आ रही है, पर झारखंड, खास कर रांची में उनका क्रेज काफी कम हो गया लगता है. मीडिया में खबरें आने के बाद भक्तों ने उनके खाते में पैसे जमा करना बंद कर दिया है. न तो दसवंद के पैसे जमा हो रहे हैं और न समागम के. राजधानी रांची के एक प्रमुख बैंक की मुख्य शाखा में 18 अप्रैल को एक भी भक्त नहीं आया. यानी एक पैसा भी बाबा के खाते में जमा नहीं हुआ है.

पहले इसी शाखा में हर दिन औसत 8-10 लाख रुपये जमा होते थे. सबसे अधिक राशि इसी खाते में जमा होते थे. राजधानी में इस बैंक की सात शाखाओं में 17 अप्रैल को करीब 3500 रुपये ही जमा हुए थे. सात भक्तों ने पैसे जमा किये थे. ये पैसे दसवंद आदि के थे. मुख्य शाखा में मात्र दो भक्तों ने ही पैसे जमा किये थे. एक भक्त ने 1200 रुपये व दूसरे ने 100 रुपये जमा किये थे. शेष रकम दूसरी शाखाओं में जमा हुए.

18 अप्रैल को मुख्य शाखा में एक भी भक्त नहीं आया. सामान्य दिनों में इसमें बाबा के भक्तों की लंबी कतार लगती थी. 250 से ज्यादा वाउचर जमा हो जाते थे. बैंक ने केवल बाबा के भक्तों के पैसे जमा करने के लिए अलग काउंटर की व्यवस्था कर रखी थी.

काले पर्स की बिक्री में भी भारी गिरावट : निर्मल बाबा भक्तों से कहते हैं कि काला पर्स रखा करो. इस कारण सिर्फ रांची में ही काले पर्स की बिक्री काफी बढ़ गयी थी. करीब 1.4 करोड़ के पर्स और बैग की बिक्री सिर्फ रांची में होती थी. अब यह भी घट कर हजारों में हो गयी. पर्स के एक होलसेलर ने बताया : अब एक-दो व्यवसायी ही पहुंचते हैं. उनकी मांग भी काफी कम होती है. खुदरा विक्रेताओं के पास भी काले पर्स और बैग की बिक्री इक्का-दुक्का ही हो रही है.

फोटो भी नहीं बिक रहे : अब बाबा की तस्‍वीरें बिकनी बंद हो गयी हैं. शहीद चौक, रांची के एक विक्रेता ने कहा : दिन भर बैठे रह जा रहे हैं. बोहनी नहीं होती.

मीडिया पर भड़के निर्मल बाबा : निर्मल बाबा ने मंगलवार को अपने समागम में मीडिया पर निशाना साधा. कहा : मीडिया में मेरे खिलाफ षड़यंत्र चल रहा है. मेरी छवि को गलत तरीके से पेश की जा रही है. फेसबुक का समागम का वीडियो जारी कर सफाई भी दी है कि आरोप लगाये जा रहे हैं कि सात हजार लेकर समागम में भक्तों को अगली पंक्ति में बैठाया जाता है, यह सरासर गलत है. समागम में फिक्सिंग नहीं हो रहा, मेरे विरोधी मीडिया के जरिये फिक्सिंग कर रहे हैं. समागम में अगली कतार में बैठनेवालों में घाटोटांड़ (झारखंड) से आये दंपति भी थे.

बाबा की संपत्ति की जांच हो : निर्मल बाबा के खिलाफ बुधवार को धरना दिया गया. धरना पर बैठे लोगों का कहना था कि निर्मल बाबा अंधविश्वास फैला कर लोगों को ठग रहे हैं. उनकी संपत्ति की जांच की जाये. उन्हें गिरफ्तार किया जाये. राजधानी के एक प्रमुख बैंक में किसी भी भक्त ने पैसा जमा नहीं किया

हंगामा, धक्का-मुक्की, चार गिरफ्तार : दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में बुधवार को समागम के दौरान निर्मल बाबा के समर्थकों ने काफी देर तक हंगामा किया. मीडियाकर्मियों से बदसलूकी की. जबरन उन्हें स्टेडियम के अंदर ले गये और उनके खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर किया. चैनल वन के पत्रकार नागेंद्र भाटी के साथ बाबा समर्थकों ने धक्का-मुक्की की. इस सिलसिले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

प्रभात खबर में प्रकाशित विजय पाठक का लेख. इस खबर पर आप अपनी प्रतिक्रिया vijay.pathak@prabhatkhabar.in पर भेज सकते हैं.


प्रभात खबर में प्रकाशित खबरों को पढ़ने के लिए क्लिक करें –

Fraud Nirmal Baba (28) : प्रभात खबर ने खोली पोल – कौन हैं निर्मल बाबा?

Fraud Nirmal Baba (33) : प्रभात खबर ने खोली पोल – कौन हैं निर्मल बाबा? (भाग दो)

Fraud Nirmal Baba (42) : एक एकाउंट में 109 करोड़

Fraud Nirmal Baba (49) : बाबा के निजी खाते में भी डाले गये 123 करोड़

Fraud Nirmal Baba (53) : भक्तों के पैसे से खरीदा 30 करोड़ का होटल

Fraud Nirmal Baba (62) : निर्मल बाबा पर कानूनी शिकंजा

Fraud Nirmal Baba (63) : नरूला मिनरल 65 हजार लेकर फरार

सीरिज की अन्य खबरें, आलेख व खुलासे पढ़ने के लिए क्लिक करें-  Fraud Nirmal Baba

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *