Fraud Nirmal Baba (82) : पीएनबी पहुंचकर एसपी शिवदीप ने निर्मल बाबा के खाते को खंगाला

: कौन हैं निर्मल बाबा? (भाग बारह) : 100 रुपये से पांच हजार तक चढ़ाते हैं भक्त : वेबसाइट पर टिकटों की बुकिंग बंद, पर समागम स्थल पर कालाबाजारी : पांच हजार में तत्काल टिकट पा सकते हैं भक्त : रांची : निर्मल जीत सिंह नरूला उर्फ निर्मल बाबा पर नया आरोप लगा है. समागम और दसवंद के नाम पर पैसे वसूलनेवाले बाबा चढ़ावा भी लेते हैं. बाबा के समागम में आने के लिए भक्तों को सिर्फ दो हजार रुपये ही जमा नहीं करने पड़ते. समागम में आने के बाद भी उन्हें पैसे चुकाने होते हैं. इसे चढ़ावा कहा जाता है. समाचार चैनल इंडिया टीवी ने दिल्ली में 18 अप्रैल को हुए बाबा के समागम की रिकॉर्डिग जारी की है. इसमें दिखाया गया है कि समागम खत्म होने के बाद भक्त एक -एक कर निर्मल बाबा के मंच के पास जाते हैं.

यहां अपनी शक्ति के अनुसार, 100 रुपये से लेकर पांच हजार रुपये तक का चढ़ावा देते हैं. बदले में उन्हें प्रसाद के नाम पर इलाइची दाना और बाबा की तसवीर दी जाती है. मंच पर ही बाबा के इर्द-गिर्द कुछ बाउंसर (सुरक्षाकर्मी) होते हैं. वे इन पैसों को एक बैग में रखते हैं. चढ़ावे की रकम कोई निश्चित नहीं है. यह राशि पूरी तरह भक्तों की शक्ति और इच्छा पर निर्भर करती है. एक अनुमान के अनुसार, निर्मल बाबा के दरबार में 3500 लोग जुटते हैं. इस तरह प्रति भक्त औसतन 200 रुपये का चढ़ावा माना जाये, तो एक समागम से बाबा को 7, 00,000 रुपये सिर्फ चढ़ावे के रूप में मिलते हैं.

समागम के टिकटों की कालाबाजारी : इंडिया टीवी के अनुसार, 18 अप्रैल को हुए समागम में टिकटों की कालाबाजारी हुई थी. एक-एक टिकट कई-कई हजार में बिके थे. निर्मल बाबा खुलेआम यह दावा करते हैं कि उनके समागम में आने के लिए सिर्फ दो हजार रुपये का टिकट लेना पड़ता है, इसके अलावा कहीं कोई राशि नहीं लगती. पर इंडिया टीवी ने बाबा के इस दावे को झुठला दिया. टीवी चैनल ने अपने स्टिंग ऑपरेशन में खुलासा किया है कि बाबा के समागम के टिकट पांच हजार रुपये में बिके थे. बाबा की वेबसाइट पर समागम के लिए अगस्त तक रजिस्ट्रेशन बंद हो गया है. इसके बाद भी लोग ब्लैक में टिकट लेकर इसमें शामिल हो सकते हैं. पांच हजार रुपये खर्च करने पर टिकट तत्काल मिल सकता है. चैनल ने ब्लैक में टिकट बेचनेवाले की तसवीर भी सार्वजनिक की है.

फारबिसगंज में केस : अररिया जिले के फारबिसगंज में निर्मल बाबा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है. पावर हाउस वार्ड संख्या नौ निवासी फुलदेव सिंह के पुत्र राकेश सिंह ने उन पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है. फारबिसगंज थाने में दर्ज प्राथमिकी में राकेश कुमार ने कहा है कि वह प्राइवेट नौकरी करता है. उसकी मासिक आय तीन हजार रुपये है. धर्म के प्रति उसकी आस्था है. टीवी चैनलों पर निर्मल बाबा का प्रोग्राम अकसर देखा करता था. आय का 10वां हिस्सा देने पर कष्ट दूर होने की बात बाबा कहते थे.उसने प्रभावित होकर पंजाब नेशनल बैंक से बाबा के निर्मल दरबार के नाम के खाते (संख्या 154600210002105) में छह जनवरी को 300, छह फरवरी को 400 और चार मार्च को 300 रुपये भेजे.

बाबा ने कोरियर से रुपये का मूल रसीद भी मंगवा लिया. बावजूद इसके मुझे कोई आर्थिक लाभ नहीं हुआ. प्राथमिकी में कहा गया है कि बाबा ने छल कर आस्था से खिलवाड़ की और उसे ठगा है. बहुत सारे लोग रुपये भेज कर ठगी के शिकार हुए हैं. आवेदक ने बाबा के विरुद्ध कार्रवाई करने की भी गुहार लगायी है.

एसपी पहुंचे पीएनबी : प्राथमिकी दर्ज होने के बाद एसपी शिवदीप लांडे पंजाब नेशनल बैंक की स्थानीय शाखा में जाकर प्रबंधक से मिले. निर्मल बाबा के खाते में फारबिसगंज से भेजी गयी राशि की छानबीन की. उन्होंने कहा : अनुसंधान शीघ्र कर निर्मल बाबाकी गिरफ्तारी के लिए कोर्ट से प्रार्थना की जायेगी. पंजाब नेशनल बैंक की फारबिसगंज शाखा से निर्मल दरबार के खाते में लगभग 25 लाख रुपये भेजे जाने की बात सामने आयी है. बैंक से डिटेल मांगा गया है.

– बाबा का दावा : समागम के टिकट के अलावा भक्तों से कोई राशि नहीं ली जाती
– चैनल का खुलासा : समागम में आनेवाले भक्त 100 से पांच हजार रुपये तक चढ़ावा चढ़ाते हैं. इससे बाबा को प्रति समागम औसतन सात लाख रुपये मिलते हैं.
– बाबा का दावा : समागम के लिए सिर्फ दो हजार रुपये लिये जाते हैं. टिकट ब्लैक में नहीं मिलते
– चैनल का खुलासा : टिकटों की कालाबाजारी करते हैं. समागम स्थल पर पांच हजार रुपये खर्च करने पर टिकट तत्काल मिल सकता है

प्रभात खबर में प्रकाशित इस खबर पर आप अपनी राय vijay.pathak@prabhatkhabar.in पर भेज सकते हैं


प्रभात खबर में प्रकाशित खबरों को पढ़ने के लिए क्लिक करें –

Fraud Nirmal Baba (28) : प्रभात खबर ने खोली पोल – कौन हैं निर्मल बाबा?

Fraud Nirmal Baba (33) : प्रभात खबर ने खोली पोल – कौन हैं निर्मल बाबा? (भाग दो)

Fraud Nirmal Baba (42) : एक एकाउंट में 109 करोड़

Fraud Nirmal Baba (49) : बाबा के निजी खाते में भी डाले गये 123 करोड़

Fraud Nirmal Baba (53) : भक्तों के पैसे से खरीदा 30 करोड़ का होटल

Fraud Nirmal Baba (62) : निर्मल बाबा पर कानूनी शिकंजा

Fraud Nirmal Baba (63) : नरूला मिनरल 65 हजार लेकर फरार

Fraud Nirmal Baba (71) : किरपा आनी बंद, रांची में शून्‍य पर पहुंचे बाबा

Fraud Nirmal Baba (76) : मंदिरों से घरों में लौटने लगे शिवलिंग

Fraud Nirmal Baba (78) : निर्मल बाबा व संजीवनी ने ठगा

सीरिज की अन्य खबरें, आलेख व खुलासे पढ़ने के लिए क्लिक करें – Fraud Nirmal Baba

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *