वर्ष 2013 का हेमंत स्मृति कथा सम्मान युवा कवि हरेप्रकाश उपाध्याय के नाम

मुंबई : कादंबिनी, जनसंदेश टाइम्स, डेली न्यूज एक्टिविस्ट समेत कई मैग्जीनों-अखबारों में वरिष्ठ पदों पर काम कर चुके और इन दिनों लखनऊ में रहते हुए 'समय सरोकार' मैग्जीन का संपादन कर रहे युवा कवि हरे प्रकाश उपाध्याय को वर्ष 2013 का हेमंत स्मृति कथा सम्मान देने की घोषणा की गई है. यह सम्मान हेमंत फाउंडेशन, मुंबई की तरफ से दिया जाएगा. फाउंडेशन कार्याध्यक्ष सुमीता प्रवीण की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई है.

संस्था की अध्यक्ष लेखिका संतोष श्रीवास्तव एवं सचिव प्रमिला वर्मा ने जानकारी दी कि वर्ष २०१३ का हेमंत स्मृति कथा सम्मान युवा कवि हरेप्रकाश उपाध्याय [लखनऊ] के कविता संग्रह ‘खिलाड़ी दोस्त एवं अन्य कविताएं’ दिया जाना तय हुआ है. इसी कड़ी में विजय वर्मा कथा सम्मान चर्चित लेखिका शरद सिंह [सागर] के उपन्यास ‘कस्बाई सिमोन’ के लिए दिया जाना निश्चित हुआ है.

संस्था के महासचिव आलोक भट्टाचार्य एवं कार्याध्यक्ष सुमीता प्रवीण के अनुसार यह समारोह मुम्बई में ४ जनवरी २०१४ में

हरे प्रकाश उपाध्याय
हरे प्रकाश उपाध्याय
आयोजित किया जायेगा जिसके अंतर्गत ग्यारह हजार मानधन, स्मृति चिन्ह, पुष्प गुच्छ एवं शॉल प्रदान किया जायेगा.

संस्था के निदेशक विनोद टीबड़ेवाला [कुलाधिपति जे.जे.टी.यू] ने जहां एक ओर शरद सिंह के लेखन को प्रौढ़, सामाजिक एवं नवीन कथानक युक्त बताते हुए कहा कि उनके लेखन में शाश्वत विचार एवं सामयिक घटनाओं,परंपराओं का गुंफन जिस कौशल से मिलता है वह सराहनीय है. वहीं निर्णायक भारत भारद्वाज [वरिष्ठ लेखक, समीक्षक] ने हरेप्रकाश उपाध्याय को जमीनी हकीकत एवं व्यापक भावबोध का कवि बताया. उनकी कविताओं में ग्रामीण संस्कृति के रीतिरिवाज रचना संदर्भ में चित्रित हैं.  
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *