‘इंडिया’ और ‘भारत’ के बीच लड़ाई और भागवत की ‘छीछालेदर’

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा है कि रेप की घटनाएं इंडिया में ज्यादा होती है और भारत में कम। खबर है कि इस बयान के मीडिया में आने के बाद इंडिया से महिलाओं का भारत की ओर बड़ी संख्या में पलायन शुरू हो गया है। मौके की नजाकत को देखते हुए भारत सरकार ने भी इंडिया से आने वाली महिलाओं के लिए वीजा की अनिवार्यता लागू कर दी है और इंडिया के लड़कों के भारत आने पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध लगा दिया है।

मोहन भागवत के इस विवादास्पद बयान पर इंडिया की सरकार ने कड़ा ऐतराज जताया है और भारत सरकार को ये नसीहत दी है कि वो इंडिया के आंतरिक मामलों में दखल ना दे…. इंडिया की सरकार ने कहा कि अगर इसी तरह के उलूल-जुलूल बयान भारत के जिम्मेदार लोग देते रहे तो इंडिया और भारत के बीच के पारस्परिक सम्बन्ध खराब हो सकते हैं।

इन सब बातों के बीच हिन्दुस्तान में रहने वाली महिलाओं ने राहत की साँस ली है…. क्योंकि हिन्दुस्तान में रेप की घटनाएं बिलकुल भी नहीं होतीं….. मीडिया ने जब हिन्दुस्तान के एक प्रमुख राष्ट्रवादी नेता से जब ये पूछा कि हिन्दुस्तान में रेप की घटनाएं ना होने का क्या कारण है ?? आपने अपने हिन्दुस्तान को इस बीमारी से कैसे बचा के रखा है?? तो नेता जी ने बताया कि हमारे राष्ट्रवादी स्कूलों में बचपन से ही ये सिखाया जाता है कि सभी हिन्दुस्तानी भाई- बहन है …. हमें अपनी सभ्यता और संस्कृति पर गर्व है। इस बात से हिन्दुस्तान के लड़कों में भारी निराशा व्याप्त हो गई है |
 
दूसरी ओर भारत और इंडिया के बीच मौजूदा तनातनी वाले हालत के मद्देनजर भारत सरकार ने एक मशहूर टीवी चैनल इंडिया टीवी प्रतिबन्ध लगा दिया है…. (इंडिया न्यूज़ और एनडीटीवी इंडिया की भी बारी है) भारत सरकार का कहना है कि वो नहीं चाहते ही इंडिया की बिगड़ी हुई सभ्यता और संस्कृति को देख कर भारत के लोग भी बिगड़ें।
 
इस प्रतिबन्ध के बाद इंडिया टीवी ने "भारत टीवी" नाम से एक नया चैनल लॉन्च करने का फैसला किया है | जिसका प्रसारण सिर्फ भारत में किया जायगा | इंडिया न्यूज और एनडीटीवी इंडिया वाले भी ऐसी ही प्लानिंग में जुट गये हैं।
 
भारत और इंडिया के बीच बिगड़े हालात का फायदा उठाते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान ने भी पाकिस्तान के खिलाफ अपनी हार का ठीकरा इंडिया के ऊपर फोड दिया। हुआ यूँ कि एक पत्रकार ने धोनी से पूछा कि पाकिस्तान ने इंडिया को फिर हरा दिया … इस बारे में आपका क्या कहना है?? तो धोनी ने जवाब दिया :- ये सवाल आप जाकर इंडिया के कप्तान से पूछें .. जिसे बेशर्मो कि तरह हारने की आदत हो गई है… भारत ने तो वर्ल्ड कप जीता है।
 
सोनी चैनल ने भी घोषणा कि है कि वो इंडियन आइडॅल कि तर्ज़ पर जल्द ही "भारत आइडॅल" की शुरुआत करेगा। 
 
उधर अरविन्द केजरीवाल अभी तक ये तय नहीं कर पाये हैं कि वो भारत का समर्थन करें या इंडिया का। इसी बीच बाबा रामदेव ने एक बार फिर से काला धन भारत वापस लाने की मांग की है जिसका इंडिया ने ये कह कर विरोध किया है कि सारा काला धन इंडिया का है, क्योंकि स्विस बैंक ने जो रिपोर्ट दी है उसने कहीं ये नहीं लिखा है काला धन भारत का है .. उसमे लिखा है कि काला धन इंडिया का है … इसलिए धन तो इंडिया में ही आयगा .. चाहे वो काला हो या सफ़ेद |
 
इसी बीच रामजेठमलानी ने ये कह कर फिर विवाद पैदा कर दिया कि सीता का हरण भारत में हुआ…. द्रौपदी का चिर हरण भारत में हुआ और बदनाम इंडिया को किया जा रहा है…. ये दोगली नीति नहीं चलेगी…. और वो भारत आरएसएस प्रमुख के खिलाफ कोर्ट में केस करेंगे इंडिया को बदनाम करने के आरोप में।
 
इधर कुछ बुद्धिजीवी टाइप के लोगों ने महेश भट्ट और जावेद अख्तर के नेतृत्व में इंडिया के लिए मोहन भगवत के इस अपमानजनक बयान के बाद गेटवे ऑफ इंडिया से इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकालने का फैसला किया है |
 
ताजा समाचार मिलने तक भारत और इंडिया के बीच तनातनी जारी थी।
 
(फेसबुक के हास्य-व्यंग्य आधारित ग्रुप 'छीछालेदर' पर प्रकाशित पोस्ट पर आधारित)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *