कमल सिंह की गुमशुदगी और सीबीआई जांच पर ख़ामोश झारखण्ड सरकार

आखिर कमल सिंह कहां है ? जादूगोड़ा वासियों के लिए यह बहुत बड़ा सवाल बन गया है। जादूगोड़ा के हर चौक-चौराहे पर लोगो को यह कहते हुए आसानी से सुना जा सकता है कि कमल सिंह आखिर चला कहां गया है जो उसे पुलिस पकड़ नहीं पा रही है। कई लोगो का तो यह भी कहना है की कमल सिंह विदेश भाग गया है। लोग दबी जुबान से यह भी कह रहे है की बहुत बड़े-बड़े लोग और अधिकारी इस मामले में फंस रहें थे इसलिए कमल सिंह को गायब कर दिया गया है। वरना यह कैसे संभव है की कोई व्यक्ति अरबो का ठगी करके पिछले चार महीनो ( २४ सितम्बर २०१३ ) से फरार है और प्रशासन उसका सुराग तक न लगा सके।

आश्चर्य की बात यह है की कमल सिंह पर करीब १५०० करोड़ के ठगी का आरोप है और २०० से अधिक लोगो ने उसपर जादूगोड़ा थाना और अन्य जगहों पर ठगी का मामला दर्ज कराया हुआ है। लेकिन अभी तक कमल सिंह गिरफ्तार नहीं हो पाया है जिसके कारण प्रशासन की कार्यशैली पर भी प्रश्न चिन्ह लग गया है।

देखा जाए तो एक कमल के कारण पूरे झारखंड की बदनामी हो रही है। आखिर झारखंड सरकार इस मामले में क्या कर रही है, क्या सरकार को ठगी के शिकार हुए हज़ारो लोगो की तनिक भी चिंता नहीं है। इस मामले में अभी तक झारखंड सरकार ने न तो कोई जांच टीम बनायी है और न ही उच्च स्तरीय जांच का आदेश दिया है। लोगो के अनुसार यह इतना बड़ा मामला है की सरकार को सीबीआई जांच का आदेश देना चाहिए था। इस मामले में सीबीआई जांच इसलिए जरुरी है क्योंकी कमल सिंह के साथ कारपोरेट जगत के कई राज्यों के बड़े बड़े लोग मिले हुए थे जो आज भी अपनी कंपनियों को चला रहें है। इनसे अभी तक कोई पूछताछ तक नहीं की गयी है। सीबीआई जांच इसलिए भी जरुरी है कि आखिर कमल सिंह ने इतनी बड़ी रकम को कहां इन्वेस्ट किया है? उसका मुख्य काम क्या था? पूरे मामले का खुलासा बहुत जरुरी है जो सिर्फ सीबीआई जांच से ही संभव है।

 जादूगोड़ा से संतोष कुमार अग्रवाल। 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *