कोलकाता कला प्रदर्शनी में नेपाल के महावाणिज्यदूत घिमिरे ने सुनायीं कविताएं

कोलकाता : सिटी आर्ट फाउंडेशन के सहयोग से एवं सिटी आर्ट फैक्ट्री के सौजन्य से भारतीय सांस्कृतिक सम्बंध परिषद (आईसीसीआर) के अवनिंद्रनाथ टैगोर हाल में आयोजित सामूहिक कला प्रदर्शनी का उद्घाटन बुधवार की शाम कोलकाता में नेपाल के महावाणिज्यदूत चंद्र कुमार घिमिरे ने किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कलाकार दुनिया को बेहतर बनाने में जुटे रहते हैं, दुनिया को कलाकार की आंख से देखने और उनसे प्रेरणा लेने की आवश्यकता है। कलाकारों ने मनुष्यता को जीवित रखा है। उन्होंने कहा कि उनकी कई कविताओं की प्रेरणा चित्रकला रही है। इस अवसर पर उन्होंने अपनी एक नेपाली कविता के कुछ अंश भी सुनाए।

               शांतनु राय, डॉ. अभिज्ञात के साथ नेपाल के महावाणिज्यदूत चंद्र कुमार घिमिरे


कार्यक्रम को, अतिथि के तौर पर साहित्यकार व कला समीक्षक डॉ. अभिज्ञात ने भी सम्बोधित किया। सिटी आर्ट फैक्ट्री के संस्थापक एवं क्यूरेटर शांतनु राय ने संस्था का परिचय देते हुए कहा कि यह संस्था कलाकार को उचित प्लेटफार्म देने में जुटी है। उसने अब तक प्रसिद्ध आर्ट गैलरियों, पांच सितारा होटलों, रिसोर्ट एवं विभिन्न कार्यशालाओं में कलाकारों को अपनी कृतियों के प्रदर्शन का मंच दिया है। इसके पूर्व श्री घिमिरे ने 25 कलाकारों की पेंटिंग्स एवं मूर्तिकला का अवलोकन किया। डॉ. हृदय नारायण सिंह की पेंटिंग 'दि नेचर' एवं 'दि विमेन' यहां प्रदर्शित है। साथ ही आशीष कुमार, देबदास मजूमदार, संजय घोष, प्रशांत कुमार बसु, उत्पल दास, माला भट्टाचार्य, कल्याण बोस, अभिजीत बोस, उमा कलमाल, देवजानी दीक्षित, मानस मंडल, देवाशीष पाल, प्रातिक चट्टोपाध्याय, कंचन मिस्त्री, संचिता सेन, सौमेन कर, सुमंत नायक, मनीषा दास, सुफिया खातून आदि की कलाकृतियां प्रदर्शित हैं। यह प्रदर्शनी 27 जनवरी तक चलेगी। इसे कलर स्पैश -3 नाम दिया गया है।

कोलकाता से डॉ. अभिज्ञात की रिपोर्ट।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *