चंदा वसूल कर घर की छत बचाते हैं अरिंदम चौधरी के संस्थान में मीडियाकर्मी

 

मैनेजमेंट गुरु श्री श्री 1001 अरिंदम जी महाराज जी की कृपा से उनकी मीडिया कंपनी प्लानमैन में सबकुछ बहुत कुशल मंगल से चल रहा है। माफ़ कीजिएगा ये दरअसल हम नहीं बल्कि ऐसा खुद चाचा चौधरी और उनके चमचे सोचते है। उनके अनुसार जो टुकड़े वो उनके कर्मचारियों के आगे 2-3 महीनों में फेंकते है उससे उनका घर धन-धान्य हो हीं जाता है। पर सूरते हाल ये है कि प्लानमैन कर्मचारी यहां रहकर काम कहीं और का करके पेट पाल रहे है या फिर दफ्तर में हीं चंदा कराकर अपनी जरूरतों को पूरा करने पर विवश है। 
 
बात बीते दिनों की हीं है जब यहां के एक कर्मचारी को उसके मकान मालिक ने घर से बाहर फेंकने की धमकी दे दी, क्यों कि उस बेचारे ने 3 महीनें से घर का किराया नहीं दिया था। इस बात का जिक्र जब उसने संपादक महोदय से किया तो वहां से भी उसे निराशा हीं हांथ लगी। मोटी रकम उठाने वाले  संपादक महोदय को उससे न तो कोई सहानुभूति थी और ना हीं चहरे पर कोई शिकन। 
 
अंतत: वक्त के मारे और टेकनिकल टीम के प्यारे उन बंधू को प्लानमैन के हीं कुछ कर्मचारियों ने पैसे चंदा किये और फिर लगभग 10000 हजार की रकम उसे दे दी।  इस तरह से भाई साहब की छत तो बच गयी पर इन हालातों को देखकर यहीं लगता है कि आनेवाले समय में प्लानमैन कर्मचारियों के दिन और भी दूभर होने वाले है। 
 
(एक पत्रकार द्वारा भेजे गये मेल पर आधारित)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *