IRS 2012 Q4 : दैनिक भास्‍कर बना देश का सबसे बड़ा अखबार समूह

मुंबई.  इंडियन रीडरशिप सर्वे 2012 की चौथी तिमाही के मुंबई में जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक पांच लाख पाठकों की बढ़त और कुल 1.97 करोड़ पाठक संख्या के साथ दैनिक भास्कर समूह देश का सबसे बड़ा अखबार समूह बना हुआ है।

चार भाषाओं में 65 संस्करणों के साथ समूह की 13 राज्यों में मौजूदगी है। चार शीर्ष अखबार समूहों में दैनिक भास्कर समूह ने आईआरएस 2012 की तीसरी तिमाही की तुलना में इस तिमाही में एसईसी-एबी सेगमेंट में दो लाख पाठक जोड़े हैं।

पंजाब में दैनिक भास्कर अमृतसर, जालंधर और लुधियाना में संयुक्त रूप से 4.24 लाख पाठकों के साथ अग्रणी है। हरियाणा में यह 12.82 लाख पाठकों के साथ अग्रणी है। यह दूसरे क्रम के अखबार से 27 प्रतिशत बढ़त लिए हुए है। चंडीगढ़ में 1.70 लाख पाठकों के साथ इसके निकटतम पाठक संख्या वाले अखबार की तुलना में 67 प्रतिशत अधिक पाठक हैं।

दैनिक भास्कर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के सभी बाजारों में अपना वर्चस्व बनाए हुए है। कुल 45.97 लाख पाठकों के साथ मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के बाजार में वह दूसरे प्रमुख अखबारों की पाठक संख्या के जोड़ से खासी बढ़त लिए हुए है। भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, रायपुर और दुर्ग भिलाई के बाजार में इसका प्रभुत्व बना हुआ है।

दैनिक भास्कर 10.33 लाख पाठकों के साथ जयपुर में भी प्रभुत्व कायम किए हुए है। जो कि दूसरे प्रमुख अखबार से 30 प्रतिशत अधिक है। यह राजस्थान में सबसे अधिक पाठक संख्या वाला शहरी अखबार बना हुआ है।

अहमदाबाद की पहली पसंद दिव्य भास्कर है जिसके पाठकों की संख्या दूसरे क्रम के अखबार से 29 प्रतिशत अधिक है। वास्तव में यह एकमात्र गुजराती अखबार है जिसके एक शहर में दस लाख से अधिक पाठक हैं। दैनिक भास्कर समूह के मराठी संस्करण दिव्य मराठी ने महाराष्ट्र के मराठी दैनिकों में फिर से सबसे ज्यादा वृद्धि दर्ज कराई है। यह 11 फीसदी की दर से बढ़ा है। (भास्‍कर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *