व्यंगकार प्रेम जनमेजय को मिलेगा साहित्यिक पत्रकारिता सम्मान

भोपाल, 3 फरवरी। हिंदी की साहित्यिक पत्रकारिता को सम्मानित किए जाने के लिए दिया जाने वाला पं. बृजलाल द्विवेदी अखिल भारतीय साहित्यिक पत्रकारिता सम्मान इस वर्ष ‘व्यंग्य यात्रा’ (दिल्ली) के संपादक डा. प्रेम जनमेजय को दिया जाएगा। सम्मान कार्यक्रम 7 फरवरी 2014 को गांधी भवन, भोपाल में सायं 5 बजे आयोजित किया गया है। आयोजन के मुख्य अतिथि प्रख्यात व्यंग्यकार ज्ञान चतुर्वेदी होंगें तथा अध्यक्षता समालोचक और बुद्धिजीवी विजयबहादुर सिंह करेंगें। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बृजकिशोर कुठियाला होंगें तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में लेखक गिरीश पंकज मौजूद रहेंगें।

डा. प्रेम जनमेजय साहित्यिक पत्रकारिता के एक महत्वपूर्ण हस्ताक्षर होने के साथ-साथ देश के जाने-माने व्यंग्यकार एवं लेखक हैं। वे पिछले नौ वर्षों से व्यंग्य विधा पर केंद्रित महत्वपूर्ण पत्रिका ‘व्यंग्य यात्रा’ का संपादन कर रहे हैं। पुरस्कार के निर्णायक मंडल में सर्वश्री विश्वनाथ सचदेव, रमेश नैयर, डा. सच्चिदानंद जोशी, डा.सुभद्रा राठौर और जयप्रकाश मानस शामिल हैं। इसके पूर्व यह सम्मान वीणा(इंदौर) के संपादक स्व. श्यामसुंदर व्यास, दस्तावेज(गोरखपुर) के संपादक विश्वनाथ प्रसाद तिवारी, कथादेश(दिल्ली) के संपादक हरिनारायण, अक्सर(जयपुर) के संपादक डा. हेतु भारद्वाज और सद्भावना दर्पण(रायपुर) के संपादक गिरीश पंकज को दिया जा चुका है। त्रैमासिक पत्रिका ‘मीडिया विमर्श’ द्वारा प्रारंभ किए गए इस अखिल भारतीय सम्मान के तहत साहित्यिक पत्रकारिता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान करने वाले संपादक को ग्यारह हजार रूपए, शाल, श्रीफल, प्रतीकचिन्ह और सम्मान पत्र से अलंकृत किया जाता है।

 

संजय द्विवेदी
कार्यकारी संपादकः मीडिया विमर्श

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *