ब्लैंक चेक मांगने पर टीवी9 गुजरात में बवाल, सेलरी मिलते ही दर्जनों ने दिया इस्तीफा

टीवी9 गुजरात के अहमदाबाद हेड ऑफिस में चार अक्टूबर को कर्मचारियों ने हल्ला बोल दिया. मैनेजमेंट को डर था कि उनके कर्मचारी सन्देश और गुजरात समाचार के नए चैनल में चले जायेंगे. इसलिए एचआर डिपार्टमेंट ने एक नोटिस लगाया कि सिस्टम में खराबी के कारण इस बार पगार डायरेक्ट बैंक में जमा नहीं होगी, इसके बदले कर्मचारियों को चेक दिया जायेगा. जब कर्मचारी चेक लेने गए तो उन्हें बोला गया कि आप किसी दूसरे चेनल में मत जाओ, इसलिए आपको कंपनी को ब्लैंक चेक देना पड़ेगा. और ये चेक आपको तीन महीने की नोटिस पीरियड के बाद वापस दिया जायेगा.

बस फिर क्या था. कर्मचारी भड़क गए. उन्होंने एचआर ऑफिस में अजित श्रीवास्तव को घेर लिया. एक साथ करीब 70 कर्मचारी थे. इसके बाद मैनेजमेंट को झुकना पड़ा और ब्लैंक चेक लिए बिना ही चेक जारी कर सबको पगार दिया.  इससे पहले टीवी9 गुजरात को छोड़कर जाने वाले विवेक कुमार भट्ट ने सन्देश ज्वाइन किया. उन्होंने टीवी9 के 70 प्रतिशत कर्मचारियों को बड़े पगार पर ऑफर लेटर दिया जिससे टीवी9 प्रबंधन की तानाशाही से त्रस्त कर्मचारी टीवी9 छोड़ना चाहते हैं  और सन्देश के आने वाली चैनल में जुड़ना चाहते हैं. जब सब कर्मचारियो को पगार 4 अक्टूबर को मिल गया तो 5 और 6 अक्टूबर दो दिन में 22 कर्मचारियो ने टीवी9 गुजरात से इस्तीफा दे दिया जिसमें ज्यादातर पैनल, स्विचर्स, प्रोग्रामिंग और कैमरा के लोग थे.  जो कर्मचारी बचे हैं उनको मैनेजमेंट ने इन्क्रीमेंट का प्रलोभन दिया है. अब देखना होगा कि रुके हुए कर्मचारी भी संतुष्ट होते हैं कि टीवी9 छोड़ देते हैं.

(टीवी9 के एक पूर्व कर्मचारी द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.) 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *