संपादक पद से हटाए गए प्रकाश दुबे

: भोपाल के मणिकांत सोनी ने संभाली भास्कर, नागपुर के संपादक पद की जिम्मेदारी : समाचार लिखने के प्राइम टाइम में अपने केबिन में बुलाकर रिपोर्टर्स और सब एडिटर्स के चेहरे की रंगत उड़ाने वाले वरिष्ठ पत्रकार प्रकार शंकर दुबे की बुधवार को चेहरे की रंगत उड़ी हुई थी. जैसे ही दैनिक भास्कर नागपुर के विशंभर भवन के कान्फ्रेंस सभागृह में बुधवार की शाम बैठक में प्रकाश दुबे ने यह घोषणा की कि अब नागपुर संस्करण के संपादक के रूप में मणिकांत सोनी सेवा देंगे, सभी के चहरे सन्न हो गये. दुबे के पाले के पत्रकारों को तो  जैसे सांप सूंघ गया. दुबे पीड़ित पत्रकारों के मन में खुशी की लहरें हिड़ोले मारने लगी. करीब दस मिनट में यह समाचार चारों ओर सनसनी की तरह फैल गई.

प्रकाश दुबे का कॉलम बंद, पीए की छुट्टी

दैनिक भास्कर, नागपुर से सूचना है कि संपादक प्रकाश दुबे का हर रविवार प्रकाशित होने वाला भास्करवारी कॉलम बंद हो गया है. इस कॉलम में राजनीतिक गलियारे की अंदरूनी चर्चाओं से जुड़ी गपशप होती थी. यह हर रविवार को भास्कर के नागपुर संस्करण के पेज नंबर तीन पर प्रकाशित होता था.

प्रकाश दुबे के सितारे गर्दिश में?

इन दिनों दैनिक भास्कर नागपुर में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। कई लोगों के सितारे गर्दिश में करने वाले यहां के संपादक प्रकाश दुबे के सितारे अब गर्दिग में आने लगे हैं। इसका ताजा उदाहरण हर रविवार को नागपुर से तैयार होने वाले कला संस्कृति पृष्ठ का बंद होना है। प्रबंधन ने इस पेज का प्रकाशन बंद करा दिया है। इस पेज पर स्थानीय लेखकों की रिपोर्ट और आलेख होते थे। सूत्रों के मुताबिक इसे प्रधान संपादक मनमोहन अग्रवाल ने सीधे निर्देश देकर बंद कराया है। वे इस पृष्ठ में प्रकाशित होने वाली सामग्री की गुणवत्ता से नाराज थे।