शुरू होगा ‘कार-ओ-बार’ पर तनिक धैर्य रखो सरकार

अमिताभ ठाकुरनिगाह पड़ी- ”नोएडा फिल्म सिटी में ‘कार-ओ-बार’ बंद!” पर. समझने में कुछ समय लगा. शायद किसी कारोबार की बात होगी जो इस समय नोयडा फिल्म सिटी में किन्ही कारणों से बंद पड़ा होगा. फिर लेख देखना शुरू किया तो पहला वाक्य ही मुझे संबोधित था-“कप्तान साहब से टीवी जर्नलिस्टों की अपील”. उसके आगे लिखा था- “जरा जल्दी रेट फाइनल कर लें”. ठीक है, अभी कप्तान नहीं हूँ, अगर कभी प्रमोट हो गया तो शायद दुबारा कप्तान भी ना बनूँ. पर उत्तर प्रदेश में नौकरी पा कर और दस जिलों में पुलिस कप्तान बन कर इतना तो हक मान ही लेता हूँ कि यदि कप्तान साहब की बात चल रही है तो उसमें मैं भी धक्का दे कर शामिल हो सकता हूँ. लिहाजा इसमें कुछ अपना सा दिखा और फिर आगे पढ़ना शुरू कर दिया.