अन्‍ना का आंदोलन भी अखबारों के लिए कमाई का जरिया बना

रोहतक। अन्ना हजारे गांधीवादी तरीके से आंदोलन कर रहे हैं और अपनी मांग को मनवाने के लिए अनशन पर हैं। पूरा देश दिल से उनके साथ है और बढ़-चढ़ कर आंदोलन में भाग ले रहा है। लेकिन जनलोकपाल बिल के लिए अन्ना का यही जनआंदोलन चंद अखबारों के लिए कमाई का जरिया बन गया है। देश भर में अन्ना को मिल रहे समर्थन का जमकर फायदा यह अखबार उठा रहे हैं।

बरखा दत्त बनना चाहती हैं गुल पनाग!

मुंबई। देश की जानी-मानी पत्रकार बरखा दत्ता बेशक आजकल राडिया-राजा प्रकरण को लेकर संदेह के घेरे में हों, लेकिन एक शख्सियत ऐसी भी है जो उन जैसा बनना चाहती है। दरअसल बॉलीवुड अभिनेत्री गुल पनाग बरखा दत्त का किरदार निभाना चाहती हैं। यह इच्छा उन्होंने मुंबई में अंधेरी स्थित प्रकाश झा प्रोडक्शन कंपनी के ऑफिस में पत्रकारों से ग्रुप इंटरव्यू के दौरान व्यक्त की।

डीपीआरओ के निधन पर पत्रकारों ने शोक जताया

रोहतक के जिला लोक संपर्क अधिकारी राजेंद्र पांचाल के निधन पर रोहतक के पत्रकारों ने शोक जताया है। आज कैनाल विश्राम गृह में हुई बैठक में दिवंगत आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन धारण किया गया। इस बैठक में लोक संपर्क विभाग के संयुक्त निदेशक अरूण जौहर ने भी शिरकत की। बाद में जिला लोकसंपर्क कार्यालय में भी शोक सभा हुई। जिसमें रोहतक के उपायुक्त फूलचंद मीणा ने श्रद्धासुमन अर्पित किए।

एसटीवी में कभी समय से नहीं मिलती सेलरी

रोहतक। एसटीवी नेटवर्क का पंजाब टुडे ग्रुप अपने यहां काम करने वाले कर्मचारियों को कभी भी समय पर सैलरी और अन्य भुगतान न करने के लिए काफी प्रसिद्ध है। इस ग्रुप में किसी भी कर्मचारी को आज तक समय पर सैलरी नहीं मिली है। इससे लेकर यहां काम करने वाले हर कर्मचारी में  रोष व्याप्त रहता है। कभी डेढ़ तो कभी दो माह महीने बाद सेलरी मिलती है। इस स्थिति में कर्मचारियों के आर्थिक हालात का अंदाजा खुद ही लगाया जा सकता है।

हरियाणा के कई पत्रकारों ने वापस किए पुरस्‍कार

: दैनिक जागरण ने अपने पत्रकारों को पुरस्‍कार जमा करने का निर्देश दिया : 21 सितम्‍बर को हरियाणा सरकार ने प्रदान किए थे पुरस्‍कार : हरियाणा सरकार द्वारा बेवजह ही पुरस्कार देना कुछ अखबार संस्थानों को रास नहीं आया। इन संस्थानों के पत्रकारों ने सरकार की ओर से मिले पुरस्कार लौटा दिए हैं। वहीं, दैनिक जागरण प्रबंधन ने भी अपने पत्रकारों से पुरस्कार लौटाने को कहा है। पत्रकारों द्वारा पुरस्कार लौटाने से हरियाणा सरकार की काफी किरकिरी हुई है और अब दांव उल्टा ही पड़ गया है।

एचयूजे का चुनावी घमासान शुरू, राठी फिर मैदान में

रोहतक। हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स यानी एचयूजे का चुनावी बिगुल बज गया है। यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष, महासचिव और प्रदेश कार्यकारिणी के 31 सदस्‍यों के लिए चुनाव होगा। वरिष्ठ पत्रकार अशोक मलिक को चुनाव अधिकारी मनोनीत किया गया है, जबकि चंडीगढ़ जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के महासचिव अवतार सिंह सहायक चुनाव अधिकारी होंगे। चुनाव अधिकारी की ओर से जारी नोटिस के मुताबिक 14 सितम्बर शाम साढ़े छह बजे तक दाखिल नामांकन पत्रों की जांच 15 सितम्बर शाम साढ़े छह बजे चंडीगढ़ प्रेस क्लब में होगी।